बीकानेर में अब नहीं होगी शार्ट सर्किट, स्‍पार्किंग की समस्‍या, सिस्‍टम को सुधारने के लिए करोड़ों रुपए खर्च करेगा बीकेईएसएल

बीकानेर Abhayindia.com बीकानेर इलेक्ट्रिसिटी सप्‍लाई लिमिटेड (बीकेईएसएल) ने बीकानेर शहर के भीतरी हिस्सों के पुराने व जर्जर हो चुके विद्युत तंत्र को बदलने की एक व्यापक कार्ययोजना बनाई है। मौजूदा विद्युत तंत्र इतना पुराना हो गया है कि शार्ट सर्किट या स्पार्किंग होने दुर्घटना होने की संभावना बनी रहती है। इस कार्ययोजना पर कम्पनी करोड़ों रुपए खर्च करेगी।

बीकेईएसएल के सीओओ जयन्तराय चौधरी ने बताया कि शहर के अन्दरूनी क्षेत्रों में विद्युत तंत्र काफी पुराना व जर्जर हालत का हो गया है। लोड बढ़ने पर पुरानी एरियल बंच केबल व पतले तारों के जलने लगातार शिकायतें आ रही है। उपभोक्ताओं की सुरक्षा को देखते हुए विद्युत तंत्र को सुदृढ करने की बेहद जरूरत है। उन्होंने बताया कि कार्ययोजना के तहत पुरानी केवल हटाकर उसकी जगह पर्याप्त साइज की केबल और ज्वाइंट बॉक्स लगाए जाएंगे। इस कार्ययोजना कम्पनी करोड़ों रुपए खर्च करने जा रही है।

चौधरी ने उपभोक्ताओं से खुद की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए इस कार्ययोजना में सहयोग की अपील करते हुए कहा कि पुराना विद्युत तंत्र बढे हुए बिजली के लोड को सहन करने में सक्षम नहीं हैं जिससे विद्युत दुर्घटना होने का खतरा बना रहता है। पिछले दिनों पहले शहर के अन्दर पुरानी केबल जल जाने पर कम्पनी ने कार्ययोजना के तहत तत्काल पुरानी केबल हटाकर नई केबल व डिस्टीब्यूशन बॉक्स लगाने का काम शुरू किया तो कुछ लोगों ने इसका विरोध करते हुए पुरानी ही केबल को चालू करने की जिद की जो उपभोक्ताओं की सुरक्षा को देखते हुए उचित नहीं थी।