हरीश मेहता का देहदान, मृत्यु पश्चात भी अपने जीवन को सार्थक रखने का दिया संदेश

Harish Mehta
Harish Mehta

बीकानेर Abhayindia.com मृत्यु शाश्वत है, हर कोई यह जानता है तथा प्रत्येक व्यक्ति यह भी चाहता है कि वह जातेजाते कुछ ऐसा कर जाए कि हमेशा के लिए एक मिसाल बन जाए। हरीश मेहता भी एक ऐसा ही उदाहरण देकर गए हैं। उन्होंने कई वर्ष पूर्व ही देहदान का संकल्प ले रखा था। आज प्रातः उनका देहावसान हो गया। उनके अत्यंत निकटवर्ती पारिवारिक सदस्य शिवकुमार भनोत ने बताया कि वह देहदान के लिए कृत संकल्प थे। तत्पश्चात मेडिकल कॉलेज के चिकित्सकों से बात करके उनको वहां ले जाया गया तथा ससम्मान भावी चिकित्‍सकों के शिक्षण के लिए दे दान किया गया।

सर्व मानव कल्याण समिति के अध्यक्ष डॉ राकेश रावत ने कहा कि यह एक बहुत अच्छा संदेश सभी के लिए हैं कि हमें मृत्यु पश्चात भी अपने जीवन को सार्थक रखना है। समिति के सभी सदस्य तथा बीकानेर का प्रत्येक नागरिक उनका आभारी है तथा उनको सादर श्रद्धांजलि अर्पित करता है।