आचार संहिता की आड़ में हो रहे अवैध निर्माण, शिकायत के बाद भी…

बीकानेर abhayindia.com चुनावी आचार संहिता की आड़ में शहर के प्रमुख स्थलों पर अवैध निर्माण तेजी से हो रहा है। इसे लेकर जागरूक लोगों द्वारा लगातार शिकायतें किये जाने बावजूद नगर निगम और नगर विकास न्‍यास महकमों में कार्रवाई के नाम पर कोई हरकत नहीं हो रही है। शहर के कई इलाकों में अवैध निर्माण तेजी से हो रहा है। हैरानी की बात तो यह है कि शहर में कई मुख्‍य मार्ग ऐसे हैंजहां खुलेआम अवैध निर्माण हो रहा है।

इस बीच कोटगेट जैसे संवेदनशील क्षेत्र की कैंचिया गली में प्रतिष्ठान संचालक ने अपनी दुकान के पीछे नगर निगम की सार्वजनिक जमीन पर अवैध निर्माण कर लिया निर्माण भी ऐसी जगह किया जहां सार्वजनिक जल स्टेण्ड है स्थानीय लोगों का आरोप है कि नगर निगम प्रशासन की मिलीभगत से कराये गये इस पक्‍के निर्माण के कारण गली में आवागमन भी बाधित हो रहा हैइसकी देखा-देखी अब दूसरे अतिक्रमणकारी भी गली में अवैध निर्माण करवा रहे है।

इसके अलावा शहर के अंदरूनी इलाकों करमीसर रोडहरोलाई हनुमान मंदिर रोडमोहता सराय आदि क्षेत्रों में अवैध निर्माण की शिकायतें भी नगर निगम और यूआईटी को मिल रही हैलेकिन कार्रवाई के नाम पर कुछ भी नहीं हो रहा। ऐसे में अवैध निर्माण करने वालों के हौसले बुलंद हो रहे हैं।

जागरूक युवा संघर्ष समिति के संयोजक नवीन विश्रोई एवं जिलाध्यक्ष भागीरथ चौधरी का आरोप है कि नगर निगम प्रशासन ने आचार संहिता की आड़ में अतिक्रमणों की शिकायतों को दबा दिया है। आचार संहिता के दौर में हो रहे अतिक्रमणों और अवैध कब्जों की भरमार में नगर निगम अफसरों की भूमिका संदेहास्पद रही इनकी भूमिका में भ्रष्टाचार की झलक नजर आ रही है। शासन-प्रशासन को इस मामले में उच्‍च स्तरीय जांच करानी चाहिए। 

बीकानेर क्राइम न्‍यूज : कोचिंग सेंटर में बनी जान-पहचान विवाहिता पर ऐसे पड़ी भारी….

यदि आप भी चाहते हैं राजनीतिक नियुक्ति, तो यहां-यहां मिलेगी गुंजाइश….