भाजपा सांसद को फिर से टिकट देने पर मचा बवाल, इसलिए हुई धक्का-मुक्की की नौबत…

सीकर/जयपुर (अभय इंडिया न्यूज)। लोकसभा चुनाव-२०१९ के लिए टिकट वितरण के साथ ही भाजपा में अंदरुनी कलह खुलकर सामने आने लगी है। सीकर से सांसद सुमेधानंद सरस्वती को टिकट दिए जाने के विरोध में कई कार्यकर्ता आक्रोशित है। इनका आक्रोश अब पार्टी के लिए भारी पड़ता नजर आ रहा है। आज हुई भाजपा की बैठक में स्थिति धक्का-मुक्की तक पहुंच गई।

लोकसभा चुनाव के मद्देनजर सीकर विधानसभा के कार्यकर्ताओं की हुई बैठक में सांसद समर्थक और विरोधी गुट उम्मीदवारी को लेकर आपस में उलझ गए। इसके चलते एकबारगी बैठक में माहौल गर्मा गया। बाद में शीर्ष नेताओं ने मामला सुलझा दिया। आपको बता दें कि सीकर लोकसभा सीट के लिए भाजपा ने सांसद सुमेधानंद सरस्वती को फिर से टिकट थमाया है। इस बीच आज जिले की आठों विधानसभाओं में भाजपा कार्यकर्ताओं की बैठक आयोजित हो रही है।

इसी दौरान सीकर विधानसभा कार्यकर्ताओं की बैठक में जब सांसद सुमेधानंद सरस्वती की उम्मीदवारी पर चर्चा हुई तो जिला परिषद सदस्य जगदीश लोरा ने सांसद की उम्मीदवारी पर सवाल खड़े कर दिए। उन्होंने कहा कि बीते 5 साल तक सांसद सुमेधानंद सरस्वती ने उनकी कोई सुनवाई नहीं की। इसी दौरान भाजपा के कुछ ओर कार्यकर्ताओं ने भी सांसद के विरोध में सुर मिला दिए। इससे सांसद समर्थक कार्यकर्ताओं ने एकबारगी तो उन्हें शांत करने की कोशिश की, लेकिन कुछ ही देर में मामला धक्का-मुक्की तक पहुंच गया।

इस बीच, पूर्व विधायक रतन जलधारी, गोरधन वर्मा और यूआईटी के पूर्व चेयरमैन हरिराम रणवां ने कार्यकर्ताओं को शांत करा दिया और सांसद सुमेधानंद सरस्वती के पक्ष में एकजुट रहकर केंद्र में फिर से नरेन्द्र मोदी की सरकार बनाने की बात कही।

आईपीएल क्रिकेट सीजन में ‘माल’ कमाने के लिए गुंडों की शरण में गए सटोरिये!

बीकानेर से भगा ले गया नाबालिग लड़की, जोधपुर में हुई बरामद, आरोपी…

काजू-बादाम को मात दे रहा मरुधरा का सूखा साग, इनके भाव…