टीम इंडिया को बदलना होगा ब्रिस्बेन का इतिहास, कंगारू 33 वर्षों से हैं अजेय

खेल डेस्‍क। भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी का चौथा और निर्णायक टेस्ट मैच ब्रिस्‍बेन मैदान में 15 जनवरी से होने जा रहा है। टीम इंडिया को यदि सीरीज जीतनी है तो उसे ब्रिस्बेन मैदान में अपना इतिहास बदलना होगा। आपको बता दें कि ब्रिस्‍बेन मैदान पर भारत कभी टेस्ट मैच नहीं जीत सका है। इस मैदान पर ऑस्ट्रेलिया 33 वर्षों में भारत से कभी नहीं हारा है। ऑस्ट्रेलिया ने ब्रिस्बेन में पिछले सात टेस्ट लगातार जीते हैं। ऑस्ट्रेलिया को ब्रिस्बेन में आखिरी बार हार नवम्बर 1988 में मिली थी, जब उसे वेस्ट इंडीज ने 9 विकेट से हराया था।

रिपोर्ट के मुताबिक, ब्रिस्बेन में टेस्ट क्रिकेट की शुरुआत नवम्बर- दिसम्बर 1931 से हुई थी। भारत ने इस मैदान पर अपना पहला टेस्ट नवम्बर-दिसम्बर 1947 में खेला था। इस मैच में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को पारी और 226 रन से हराया था। भारत ने इसके बाद जनवरी 1968 में टेस्ट मैच 39 रन से गंवाया। दिसम्बर 1977 में भारत को ब्रिस्बेन में 16 रन से नजदीकी हार का सामना करना पड़ा।

इसी तरह नवम्बर-दिसम्बर 1991 में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को ब्रिस्बेन में 10 विकेट से हराया, जबकि दिसम्बर 2003 में खेला गया टेस्ट मैच ड्रा रहा। दिसम्बर 2014 में खेले गए टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को चार विकेट से पराजित किया। इस मैदान पर खेले गए आखिरी टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया ने पाकिस्तान को नवम्बर 2019 में पारी और पांच रन से हराया।

आपको यह भी बता दें कि यदि भारत ब्रिस्बेन टेस्ट को जीतता है या ड्रा खेलता है तो वह बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी अपने पास बरकरार रख सकेगा, क्योंकि भारत ने 2018-19 में ऑस्ट्रेलिया से पिछली सीरीज 2-1 से जीती थी।

सीमावर्ती क्षेत्र में धारा 144 के आदेश दो माह के लिए बढ़ाए…

मकर संक्रांति कल, सिंह पर सवार होकर आएगी,इन वस्तुओं का करें दान…

दो भाइयों की कहानी पीयूष शंगारी की जुबानी...

अभय इंडिया के फेसबुक पेज में जुडऩे के लिए क्लिक करें।

SHARE
https://abhayindia.com/ बीकानेर की कला, संस्‍कृति, समाज, राजनीति, इतिहास, प्रशासन, धोरे, ऊंट, पर्यटन, तकनीकी विकास और आमजन के आवाज की सशक्‍त ऑनलाइन पहल। Contact us: abhayindia07@gmail.com : 9829217604