राजस्‍थान के इतिहास में अब तक की न्यूनतम दर पर सौर ऊर्जा खरीद के लिए हुआ करार

Dr BD Kalla
Dr BD Kalla

जयपुर Abhayindia.com राज्‍य सरकार ने बजट घोषणा में अपरम्परागत स्त्रोतों से प्रदेश में विद्युत उत्पादन बढ़ाने व किसानों को कृषि कार्य के लिए दिन में बिजली आपूर्ति करने हेतु घोषणा की थी। इसके लिए अपरम्परागत स्त्रोतों से बिजली उत्पादन बढाने व राज्य में इस क्षेत्र में निवेशकों को प्रोत्साहित करने  के लिए राज्य सरकार ने वर्ष 2019 में नई सौर एवं पवन ऊर्जा नीति जारी की थी।

ऊर्जा मंत्री डॉ. बी. डी. कल्ला ने बताया कि राज्य सरकार द्वारा किसानों को दिन के 2 ब्लाक में विद्युत उपलब्ध कराने के लिए बुधवार 13 जनवरी, 2021 को 1070 मेगावाट सौर ऊर्जा खरीद के लिए निविदा में आई न्यूनतम दर पर राजस्थान ऊर्जा विकास निगम द्वारा सोलर एनर्जी कार्पोरेशन ऑफ इण्डिया लिमिटेड (SECI) के साथ करार किया है। उन्होंने बताया कि यह सौर ऊर्जा आगामी 1.5 वर्ष (18 महीने) में राज्य को उपलब्ध हो जायेगी, जिसका सीधा फायदा किसानो को दिन में बिजली उपलब्ध कराने में होगा।

डॉ. कल्ला ने बताया कि सोलर एनर्जी कार्पोरेशन ऑफ इण्डिया लिमिटेड  (SECI) द्वारा राजस्थान की तीनों विद्युत वितरण निगमों के लिए 1070 मेगावाट सौर ऊर्जा उत्पादकों के चयन की प्रक्रिया माह जुलाई, 2020 में शुरू की गई थी। राज्य सरकार की बेहतर नीतियों के फलस्वरूप सौर ऊर्जा उत्पादकों के चयन कि निविदा प्रक्रिया में निविदाकर्ता द्वारा निर्धारित मात्रा से 4 गुना मात्रा की निविदायें प्राप्त हुई है। इस निविदा प्रक्रिया के तहत 23 नवंबर, 2020 को 600 मेगावाट सौर ऊर्जा के लिए 2 रुपये प्रति यूनिट व 470 मेगावाट सौर ऊर्जा के लिए 2.01 रुपये प्रति यूनिट की दर आई, जो कि राज्य में अब तक की सबसे न्यूनतम दर है। इस न्यूनतम दर पर यह करार किया गया है।

राजस्‍थान पहुंची कोरोना वैक्‍सीन की पहली खेप, ढोल नगाड़ों से हुआ स्वागत

दो भाइयों की कहानी पीयूष शंगारी की जुबानी...

अभय इंडिया के फेसबुक पेज में जुडऩे के लिए क्लिक करें।

SHARE
https://abhayindia.com/ बीकानेर की कला, संस्‍कृति, समाज, राजनीति, इतिहास, प्रशासन, धोरे, ऊंट, पर्यटन, तकनीकी विकास और आमजन के आवाज की सशक्‍त ऑनलाइन पहल। Contact us: abhayindia07@gmail.com : 9829217604