कोरोनाकाल में करने जा रहे हैं शादी समारोह तो इन नियमों की करनी होगी पालना…

corona virus in india
corona virus in india

जयपुर Abhayindia.com प्रदेश में 25 नवंबर (देवउठनी एकादशी) से शादियों की धूम शुरू होने जा रही है। इसके लिए लोग राजधानी जयपुर सहित अन्य जिलों में प्रशासन से अनुमति ले रहे हैं। इसे देखते हुए एसडीएम और एडीएम कार्यालयों में लोगों की भारी भीड़ उमड़ रही है। हालांकि, कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच शादियों के बढ़ते आवेदनों को देखते हुए पुलिस और प्रशासन की चिंताएं भी बढ़ रही है।

आपको बता दें कि प्रदेश के गृह विभाग ग्रुप- 9 की ओर से 1 नवंबर को जारी गाइड लाइन के मुताबिक, शादियों में मेहमानों की संख्या 50 से बढ़ाकर 100 कर दी गई थी। दूसरी ओर, दीवाली के बाद जयपुर समेत अन्य जिलों में कोरोना के केस बेहताशा बढ़ रहे हैं। ऐसे में प्रशासन ने थानावार टीम गठित कर इनकी निगरानी करने की तैयारी कर ली है।

गृह विभाग की गाइडलाइन के अनुसार, शादी समारोह में 100 से अधिक मेहमान मिलने पर संबंधित आयोजनकर्ता के खिलाफ महामारी अधिनियम के तहत कार्रवाई की जाएगी. शादी से पहले आयोजनकर्ता को क्षेत्र के एसडीएम को इसकी पूर्व सूचना देनी होगी। समारोह में कोरोना से बचाव के लिये तय मानकों का पालन करना अनिवार्य होगा।

इन बातों का रखना होगा विशेष ध्यान…

– समारोह में स्क्रीनिंग एवं स्वच्छता सुनिश्चित होनी चाहिये।

-प्रवेश एवं निकास के बिंदुओं पर थर्मल स्कैनिंग, हैंड वॉश एवं सेनेटाइजर के प्रावधान करने होंगे।

-फेस मास्क पहनना अनिवार्य होगा।

-नो मास्क-नो एंट्री की सख्ती से पालना करनी होगी।

-किसी भी शर्त का उल्लंघन करने पर भारी जुर्माने लगाया जायेगा।

-दूल्हा- दुल्हन का पहचान पत्र जरुरी होगा।

-दूल्हा- दुल्हन के आयु प्रमाण पत्र भी जरुरी है।

-दूल्हा- दुल्हन के माता-पिता का पहचान पत्र होना आवश्यक है।

-दूल्हा- दुल्हन के विवाह स्थल का पता एवं विवाह स्थल का थाना क्षेत्र की पहचान देनी होगी।

-शादी के आयोजन की पूर्व सूचना संबंधित एसडीएम कार्यालय में देनी होगी।

-100 से अधिक लोग शादी के आयोजन में शामिल नहीं हो सकेंगे।

-शादी में 2 गज दूरी की दूरी रखनी जरुरी होगी।

-गाइडलाइन को पूरी तरह से फॉलो करना होगा।

बीकानेर : बैंक डकैती की योजना बनाने वाला एक और आरोपी अवैध पिस्टल के साथ गिरफ्तार

SHARE
https://abhayindia.com/ बीकानेर की कला, संस्‍कृति, समाज, राजनीति, इतिहास, प्रशासन, धोरे, ऊंट, पर्यटन, तकनीकी विकास और आमजन के आवाज की सशक्‍त ऑनलाइन पहल। Contact us: abhayindia07@gmail.com : 9829217604