सरकार की सद्धबुद्धि के लिए हवन, सात माह से वेतन को तरस रहे ईसीबी कार्मिक…

बीकानेरAbhayindia.com  राजकीय अभियांत्रिकी महाविद्यालय के कार्मिक सात माह से वेतन को तरस रहे हैं। अपने हक के पैसों के लिए बीते पांच दिनों से कॉलेज के मुख्य द्वार पर धरना दे रहे हैं। शुक्रवार को कर्मचारियों ने तकनीकी शिक्षा मंत्री एवं विभाग की सद्धबुद्धि के लिए हवन में आहुतियां दी।

Preview YouTube video सरकार की सद्धबुद्धि के लिए हवन, सात माह से वेतन को तरस रहे ईसीबी कार्मिक…

राजस्थान इंजीनियरिंग कॉलेज टीचर्स एसोसिएशन रेक्टा बीकानेर इकाई के तत्वाधान में चल रहे इस धरना प्रदर्शन के पांचवें दिन भी सभी कार्मिकों,शिक्षकों एवं कर्मचारियों यज्ञ में आहुति देकर सरकार को चेतावनी दी यदि जल्द ही उनकी समस्या का निराकरण नहीं किया गया तो इस धरने को जन आंदोलन के रूप में लाया जाएगा। रेक्टा की स्थानीय इकाई के अध्यक्ष डॉ.शौकत अली ने बताया कि 31 अक्टूबर को सभी कार्मिक मुख्य बाजार एवं बीकानेर के मुख्य मार्गों पर भीख मांग कर विरोध जताएंगे।

Preview YouTube video इंजीनियर बनाने वालोें को सात महीनों से नहीं मिला वेतन…

रेक्टा प्रवक्ता डॉ.महेंद्र व्यास ने बताया कि बताया के की राजस्थान सरकार की 11 स्वायत्तशासी इंजीनियरिंग कॉलेजों की वित्तीय स्थिति बीते एक साल बेहद खराब चल रही हैं सरकार को इससे अवगत कराया जा चुका है, इसके बावजूद समस्या का समाधान नहीं हुआ। जिसका खामियाजा महाविद्यालय के 401 कार्मिकों को भुगतना पड़ रहा है। धरने को डॉ. जितेंद्र जैनेन्द्र, डॉ.जब्बार खिलजी, डॉ.रविन्द्र दायमा, मनोज छिंपा,अमितओझा ,कुंजीलाल स्वामी, उदय व्यास ,नवरतन किराड़ू रणजीत सिंह राठौड़, विनीत राणा सहित कार्मिकों ने संबोधित किया।