अभिनंदन 2 बजे पहुंचेंगे भारत, स्वागत में देश ने ऐसे बिछाए पलक पावड़े…

abhinandan vartmaan
abhinandan vartmaan

नई दिल्ली। पाकिस्तान में बंदी बनाए गए विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान शुक्रवार को भारत लौटेंगे। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार वे दोपहर 2 बजे के बाद वाघा बॉर्डर पहुंचेंगे। पाक प्रधानमंत्री इमरान खान ने पाकिस्तान की संसद में गुरुवार को यह ऐलान किया था कि अभिनंदन को शुक्रवार को भारत को सौंप दिया जाएगा। अभिनंदन के माता-पिता भी उन्हें लेने वाघा बॉर्डर पहुंच रहे हैं। अभिनंदन का स्वागत करने के लिए देशभर में जगह-जगह स्वागत की तैयारियां चल रही है। आपको बता दें कि इमरान ने कल कहा था कि पाकिस्तान शांति का संदेश देने के लिए यह कदम उठा रहा है। इससे पहले भारत ने पाक से कहा था कि वह तत्काल और बिना शर्त अभिनंदन को रिहा करे।

पाक से पहले भी हुई जवानों की रिहाई

अभिनंदन से पहले भारत के जवाब कम्बापति नचिकेता की भी पाक से रिहाई हो चुकी है। तब रिहाई में आठ दिन लगे थे। करगिल युद्ध के दौरान जब कम्बापति नचिकेता वायुसेना में फ्लाइट लेफ्टिनेंट थे तब उनकी उम्र 26 साल थी। उनके जिम्मे बटालिक सेक्टर की सुरक्षा थी। 27 मई 1999 को वे मिग-27 फाइटर प्लेन उड़ा रहे थे। इस दौरान इंजन फेल हो जाने से उन्हें इजेक्ट होना पड़ा और पैराशूट के सहारे वे पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में जा गिरे। इसके बाद भारत ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पाकिस्तान पर दबाव बनाया और 8 दिन बाद नचिकेता की रिहाई हो सकी।

इसी तरह 1965 की भारत-पाक युद्ध के दौरान भी कई भारतीय सैनिकों को पाक ने बंदी बना लिया था। इनमें एक स्क्वॉड्रन लीडर के.सी. करियप्पा भी थे। उनके विमान को पाकिस्तानी वायुसेना ने निशाना बनाया था। इसके बाद उन्हें पाकिस्तान ने बंदी बना लिया था, युद्ध खत्म होने के 4 माह बाद उनकी रिहाई हो सकी।

घुटनों के बल गिरा पाक, अभिनंदन का भारत लौटने पर होगा ‘हार्दिक अभिनंदन’

कलक्टर के निर्देशों के बाद जागा स्वास्थ्य अमला, दुकानों से घी के लिए सैम्पल

जॉब न्यूज : रेलवे में 1.30 लाख पदों के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन 1 से