शिवसेना सांसद संजय राउत हिरासत में, भगवा झंडा लहराते हुए किया अभिवादन…

नई दिल्‍ली Abhayindia.com प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने शिवसेना सांसद संजय राउत को हिरासत में ले लिया है। हिरासत की सूचना के बाद राउत के आवास के बाहर बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया। ईडी अधिकारियों की गिरफ्त में संजय राउत को समर्थकों का अभिवादन करते देखा गया। राउत ने हाथ में शिवसेना का भगवा झंडा लहराते हुए अपने समर्थकों का अभिवादन किया।

आपको बता दें कि ईडी के अधिकारियों ने शिवसेना नेता संजय राउत को मुंबई में उनके आवासीय परिसरों पर छापेमारी करने के बाद हिरासत में लिया और अपने साथ ले गए। इस बीच, पूर्व मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे ने पात्रा चॉल मामले में संजय राउत के घर पर ईडी अधिकारियों के छापेमारी के बाद कहा कि यह साजिश बेशर्म है। आवाजों को दबाने की कोशिश हो रही है।

यह है मामला…

पात्रा चॉल मुंबई के गोरेगांव में बनी है। जिस जमीन पर ये फ्लैट रिडेवलप होने थे, उसका एरिया 47 एकड़ था। इस मामले में ईडी ने शिवसेना सांसद संजय राउत के भाडुंप स्थित घर पर छापेमारी की। ईडी ने प्रिवेन्शन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट (PMLA) के तहत केस दर्ज किया है। 2018 में महाराष्ट्र हाउसिंग एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी (MHADA) ने PMLA एक्ट के तहत केस दर्ज कराया था। मामला राकेश कुमार वधावन, सारंग कुमार वधावन और अन्य के खिलाफ दर्ज किया गया था। ईडी का कहना है कि गुरु आशीष कंस्ट्रक्शन को पात्रा चॉल को पुनर्विकसित करने का काम मिला था। MHADA ने पात्रा चॉल में 672 किरायेदारों के घरों को पुनर्विकसित करने का ठेका सौंपा। गुरु आशीष कंस्ट्रक्शन ने MHADA को गुमराह किया। बिना फ्लैट बनाए ही जमीन 9 अलग-अलग बिल्डरों को बेच दी। आशीष कंस्ट्रक्शन कंपनी को 901.79 करोड़ रुपये की मोटी आमदनी हुई। मिले।

गुरु आशीष कंस्ट्रक्शन प्राइवेट लिमिटेड, हाउसिंग डेवलपमेंट एंड इन्फ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड (HDIL) की सिस्टर कंपनी है। राकेश वधावन, सारंग वधावन और प्रवीण राउत HDIL में डायरेक्टर थे। ईडी की जांच में सामने आया कि HDIL ने करीब 100 करोड़ रुपये प्रवीण राउत के खाते में जमा कराए थे। बाद में इस पैसे में से 2010 में प्रवीण राउत की पत्नी माधुरी ने संजय राउत की पत्नी वर्षा राउत के खाते में 83 लाख रुपये ट्रांसफर किए। ईडी का आरोप है कि पैसों का ये लेन-देन गैरकानूनी तरीके से हुआ। इसी से वर्षा राउत ने दादर में एक फ्लैट खरीदा। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक प्रवीण राउत और वधावन बंधुओं का नाम पीएमसी बैंक घोटाले में भी आया था। प्रवीण राउत और संजय राउत कथित तौर पर दोस्त हैं।