पाक के नापाक मंसूबे फिर नाकामयाब, दो कमांडो ढेर

file photo
file photo

जम्मू-कश्मीर। भारतीय सेना ने एक बार फिर पाकिस्तान के नापाक मंसूबों पर पानी फेरते हुए जम्मू-कश्मीर के नौगाम सेक्टर में की बॉर्डर एक्शन टीम (बैट) के दो कमांडो को मार गिराया। पाकिस्तान नववर्ष के मौके पर भारतीय सेना पर बड़े हमले की फिराक में था। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक 30 दिसंबर को बैट की टुकड़ी घने जंगलों का फायदा उठाकर भारतीय सीमा में घुसने की कोशिश कर रही थी। उनके निशाने पर भारतीय सेना की अग्रिम चौकी थी। उन्हें भारतीय सीमा में प्रवेश कराने के लिए पाकिस्तान पोस्ट की ओर से लगातार कवर फायरिंग की जा रही थी। हालांकि सेना उनके नापाक मंसूबों को भांप गई जिससे उनको मुंह की खानी पड़ी।

सेना के हवाले से आई जानकारी में बताया गया कि घुसपैठियों ने जिस तरह की पोशाक पहन रखी थी, वो पाकिस्तान की सेना की नियमित वर्दी जैसी थी। उनके पास से पाकिस्तान के चिह्नों वाला सामान बरामद हुआ था। बरामद हुई चीजों से यह अंदेशा लगाया जा रहा है कि उनका इरादा भारतीय सेना पर भीषण हमला करने का था। इस बीच सेना ने पाकिस्तान से अपने मारे गए सैनिकों के शवों को लेकर जाने के लिए कहा है।

बहरहाल, सेना की ओर से घने जंगलों में तलाशी अभियान भी चलाया गया। लंबे समय तक चले तलाशी अभियान के बाद दो पाकिस्तानी सैनिकों के शव बरामद होने की पुष्टि की गई। भारी संख्या में यहां से युद्धक भंडार भी बरामद हुआ है।

आपको बता दें कि बैट यानी पाकिस्तानी बॉर्डर एक्शन टीम। ये ऐसी टीम है जो क्रूरता की सभी हदों को लांघ जाती है। इनके कमांडो पर कई बार भारतीय सैनिकों के शवों को क्षत-विक्षत करने का आरोप लगता रहा है। शहीद हेमराज का सिर काटने का आरोप भी बैट कमांडो पर लगा था। इस टीम में सेना के कमांडो के साथ आतंकी भी शामिल होते हैं।

राजस्थान : विधायक पर पहले हुआ था हमला, अब मिली गोली से मारने की धमकी

मंत्री नहीं बनाने पर बुलाई महापंचायत, अब करेंगे दिल्ली कूच…