20.1 C
Bikaner
Wednesday, February 1, 2023

मंत्री डॉ. कल्‍ला ने अफसरों-कर्मचारियों को लेकर कही ये बड़ी बात…

Ad class= Ad class= Ad class= Ad class=

बीकानेर abhayindia.com ऊर्जा एवं जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी मंत्री डाॅ. बी. डी. कल्ला ने कहा कि राजकीय अधिकारी-कर्मचारी सरकार की बैकबोन (रीढ की हड्डी) हैं, राजकीय योजनाओं के सफल क्रियान्वयन में इनकी प्रभावी भूमिका है।

Ad class= Ad class= Ad class=

डाॅ. कल्ला मंगलवार को रेलवे प्रेक्षागृह में डाॅ. अम्बेडकर अनुसूचित जाति अधिकारी-कर्मचारी एसोसियेशन, शाखा बीकानेर द्वारा आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि डाॅ. अम्बेडकर ने शिक्षित होने, संगठित रहने तथा अधिकारों हेतु संघर्ष करने की बात कही थी। उन्होंने बताया कि अनुसूचित जाति के छात्रावासों के विद्यार्थियों को सभी आवश्यक सुविधाएं मिलें, यह सुनिश्चित किया जायेगा। उन्होंने बताया कि इस संबंध में कमेटी बनाकर, जिले के इन छात्रावासों का निरीक्षण करवाकर, वहां उपलब्ध सुविधाओं व कमियों के बारे जानकारी जुटाई जाएगी व इसके अनुसार छात्रावासों में बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध करवाई जायेंगी।

Ad class= Ad class=

यह न्यूज़ भी पढ़े :  

बीकानेर की बेटी को दिल्‍ली में मिला राष्ट्रीय गौरव अवार्ड

सीएम गहलोत ने गुजरातियों का किया अपमान, माफी मांगे : विजय रूपाणी

पान-मसाला और गुटखों की खरीद-फरोख्त का अब ऐसे बनेगा सिस्टम…!

डाॅ. कल्ला ने कहा कि जिले से अधिक से अधिक विद्यार्थी अखिल भारतीय प्रशासनिक सेवाओं व राजस्थान प्रशासनिक सेवा में चयनित हों, इसके लिए सामाजिक संस्थाएं स्तरीय कोचिंग सेन्टर्स की स्थापना करें, जिससे विद्यार्थियों को उचित मार्गदर्शन प्राप्त हो सके। उन्होंने कहा कि अनुसूचित जाति-जनजाति वर्ग के विद्यार्थियों को समय पर व पूरी छात्रवृति दिलाने के हरसंभव प्रयास किए जायेंगे।

डा. कल्ला ने कहा कि जिले के अनुसूचित वर्ग के मौहल्लों में सामुदायिक भवन की आवश्यकता को पूरा करने के प्रयास किए जायेंगे। उन्होंने कहा कि वाल्मिकी समाज के युवाओं के लिए एम एस काॅलेज के पीछे स्टेडियम का निर्माण करवाया गया। उन्होंने कहा कि अनुसूचित जाति वर्ग के अधिकारियों-कर्मचारियों के हितों का पूरा ध्यान रखा जायेगा। उन्होंने बताया कि विद्यार्थियों की सुविधा के लिए राज्य सरकार द्वारा हरिदेव जोशी पत्रकारिता विश्वविद्यालय तथा डाॅ. भीमराव अम्बेडकर विश्वविद्यालय पुनः आरंभ करवाए गए।

इस अवसर पर राजकुमार पन्नू, सुरेश अम्बेडकर, मोडाराम कड़ेला, शिवलाल तेजी, लखीराम सहित बड़ी संख्या में अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन रामलाल पड़िहार ने किया।

Abhay India
Abhay Indiahttps://abhayindia.com
बीकानेर की कला, संस्‍कृति, समाज, राजनीति, इतिहास, प्रशासन, पर्यटन, तकनीकी विकास और आमजन के आवाज की सशक्‍त ऑनलाइन पहल। Contact us: [email protected] : 9829217604

Related Articles

Latest Articles