लालू ने जेल से ही बांटे टिकट, आयोग के पास पहुंचा मामला, अ‍ब…

Abhayindia.com। आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव जेल में बंद होने के बाद भी सुर्खियों में बने हुए है। इस बार भी लालू फंसे हुए ही नजर आ रहे हैं। बिहार की सत्ताधारी पार्टी जनता दल यूनाइटेड ने लालू प्रसाद यादव पर जेल से ही पार्टी संचालन का आरोप लगाया है। पार्टी के प्रवक्ता नीरज कुमार ने राजद के टिकट वितरण में लालू यादव के हस्‍ताक्षर से पार्टी टिकट बांटने का आरोप लगाया है। उन्होंने निर्वाचन आयोग से इसकी जांच करने और तत्काल आरजेडी के सभी प्रत्याशियों के टिकट रद्द करने की मांग की है।

निर्वाचन आयोग को लिखे अपने पत्र में जेडीयू नेता ने सवाल किया है कि आखिर जेल में होने के दौरान किसके आदेश से अपने हस्ताक्षर से लालू यादव ने टिकट बांटा है। उन्होंने चुनाव आयोग से इस पर जल्द ही एक्शन लेने की मांग की है।

इधर, जेडीयू नेता नीरज कुमार की बातों का समर्थन करते हुए एलजेपी संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष चिराग पासवान ने भी आरोप लगाते हुए कहा कि पूरी की पूरी पार्टी जेल से चलाई जा रही है, सभी को पता है कि प्रत्याशी जेल में मिलने जा रहे है।

जबकि, लालू प्रसाद यादव का बचाव करते हुए आरजेडी के नेता शिवानंद तिवारी ने कहा कि जेडीयू के लोग बेचैनी में हैं। उन्होंने सवाल पूछा कि लोग न्यायिक हिरासत में चुनाव लड़ते हैं तो टिकट बांटना कोई गुनाह नहीं। उन्होंने कहा कि पार्टी ने लालू को राष्ट्रीय अध्यक्ष मनोनीत कर रखा है तो वो टिकट क्यों नहीं बांटेंगे? बहरहाल, इस मामले की पूरी सच्चाई क्या है यह तो अभी सामने आना बाकी है, लेकिन जेडीयू नेता द्वारा निर्वाचन आयोग को लिखी चिट्ठी में आरजेडी के उम्मीदवारों का टिकट रद्द करने की मांग ने सियासी पारा जरूर चढ गया है।

पायलट ने सीएम गहलोत के साथ अपने संबंधों को लेकर दिया बड़ा बयान, बोले- ये तेरी-मेरी…

…तो राहुल गांधी के खिलाफ ब्रिटेन की अदालत जाएंगे मोदी