चीनी सेना ने कांटे लगे डंडों से किया हमला, राजस्थान के घायल सैनिक ने बताया हमले का आंखों देखा हाल

India China Border Fight
India China Border Fight

जयपुर। भारत-चीन सीमा पर लद्दाख की गलवान घाटी में चीनी सैनिकों ने अचानक धोखे से हमला किया इसमें भारत के 20 जवान शहीद हो गए। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार राजस्थान के अलवर जिले के सैनिक सुरेंद्र सिंह ने अपने परिजनों को घटना के बारे में फ़ोन पर बताया कि गलवान घाटी की नदी में करीब 5 फुट गहरे बेहद ठंडे पानी में यह संघर्ष चलता रहा।

जहां यह संघर्ष हुआ उस नदी के किनारे मात्र एक आदमी को ही निकलने की जगह थी इसलिए भारतीय सैनिकों को संभलने में भारी परेशानी हुई। सुरेंद्र सिंह ने बताया कि कि अब वह स्वस्थ हैं और लद्दाख के सैनिक हॉस्पिटल में उनका इलाज चल रहा है। उनके एक हाथ में फैक्चर है और सिर में करीब एक दर्जन टांके लगे हैं।

बीकानेर में आज नए ठिकानों से मरीज आए सामने, खंगाली जा रही ट्रेवल हिस्‍ट्री…

उन्होंने बताया कि पांच घंटे 5 फुट गहरे पानी में हुए संघर्ष में सिर में चोट लगने से वह घायल हो गए थे और अन्य सैनिकों ने उन्हें बाहर निकाला। उन्हें तब तक होश था, उसके बाद उन्हें लद्दाख के हॉस्पिटल में ही आकर करीब 12 घंटे बाद होश आया। उन्होंने बताया कि चीनी सेना ने कांटे लगे डंडों से हमला किया। जिस वक्त यह हमला किया गया उस वक्त भारत के सैनिक कम थे, लेकिन उनमें जज्बा चीनी सैनिकों से लड़ने का पूरा था। आमने-सामने होते तो चीन के सैनिकों को धूल चटा देते।

राजस्‍थान : लू के अलर्ट के बीच अच्‍छी खबर, 3 में दिन में आ जाएगा मानसून!

राजस्‍थान में कोरोना : आज सुबह 84 नए केस, 10 की मौत

प्रधानमंत्री मोदी ने इस घटना पर ट्विटर का वीडियो सन्देश पोस्ट किया, मोदी ने कहा … पूर्वी लद्दाख में राष्ट्र। उनके सर्वोच्च बलिदान को कभी नहीं भुलाया जा सकेगा। भारत को हमारे सशस्त्र बलों की वीरता पर गर्व है। उन्होंने हमेशा उल्लेखनीय साहस और दृढ़ता से भारत की संप्रभुता की रक्षा की है।

SHARE