बीकानेर: गुणवत्तापूर्ण तकनीकी शिक्षा में नवाचार रहेगी प्राथमिकता: डॉ.अम्बरीश शरण…

बीकानेर Abhayindia.com तकनीकी विश्वविद्यालय के नवनियुक्त कुलपति प्रो. (डॉ.) अम्बरीश शरण विद्यार्थी ने आज राज्यपाल के अनुमति से विश्वविद्यालय के कुलपति का ऑनलाइन कार्यभार ग्रहण किया।

इस अवसर पर कुलपति प्रो. विद्यार्थी ने अपने सन्देश में कहा कि विश्वविद्यालय के मुखिया होने के नाते उनकी विश्वविद्यालय के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका रहेगी उनकी हमेशा प्राथमिकता रहेगी कि आपसी समन्वय से विश्वविद्यालय के हितों को सर्वोच्च प्राथमिकता प्रदान की जाए। समय के साथ उच्च एवं तकनीकी शिक्षा के बदलते स्वरूप को अपनाते हुए विश्वविद्यालय में श्रेष्ठ नवीनतम तकनीक, नवाचार, लाभदायक अकादमिक योजनाओं, शैक्षणिक अनुसंधान के माध्यम से विश्वविद्यालय को विकसित किया जाए।

उनका प्रयास रहेगा कि विश्वविद्यालय के विद्यार्थियों एवं शिक्षकों की समस्याओं को प्राथमिकता से सुना जाए उनका त्वरित निदान किया जाए। उनका प्रयास रहेगा की विश्वविद्यालय को एक ब्रांड के रूप में स्थापित किया जाए साथ ही विश्वविद्यालय विकास को एक नई दिशा देने का प्रयास किए जाए।

उनकी प्राथमिकता रहेगी की बीकानेर तकनीकी विश्वविद्यालय को वैश्विक स्तर पर ले जाने के लिए हर संभव प्रयास किए जाए साथ ही शोध, नवाचार और गुणवत्तापूर्ण उच्च शिक्षा को सुनिश्चित करने के सफल प्रयासो से विश्वविद्यालय नई पहचान स्थापित की जाए ।

विधार्थियों को स्टार्टअप से जोडऩे और व उद्यम का मार्ग प्रशस्त करने, स्टार्टअप एवं इनोवेशन को बढ़ावा देने के उदेश्य से टेक्नोलॉजी इन्क्यूबेशन सेंटर की स्थापना के लिए प्रयास किए जाएंगे ताकि अनुसन्धान को बढ़ावा मिल सके और विधार्थियों को इनोवेटिव आइडिया और टेक्नोलॉजी की मदद से बिजनेस मॉडल के रूप में विकसित किया जा सके।

गौरतलब है कि नवनियुक्त कुलपति प्रो. विद्यार्थी वरिष्ठ शिक्षाविद एवं निदेशक, नन्ही परी सीमांत इंजीनियरिंग संस्थान, पिथौरागढ़ पिछले 2 दशकों से जैव प्रौद्योगिकी और बायोप्रोसेस इंजीनियरिंग में कई अनुसंधान और शिक्षण कार्य की योजना और निष्पादन के साथ जुड़े हुए हैं। प्रो. विद्यार्थी देश के विभिन्न प्रमुख शैक्षणिक संस्थानों के विभिन्न सलाहकार समितियों और बोर्ड ऑफ स्टडीज के सदस्य हैं। डॉ.विद्यार्थी झारखंड राज्य, झारखंड राज्य जैव प्रौद्योगिकी बोर्ड की जैव प्रौद्योगिकी सलाहकार समिति के सदस्य हैं और विभिन्न केंद्रीय मंत्रालयों के लिए टास्क फोर्स के नामित सदस्य हैं।

डॉ.विद्यार्थी ने इंस्टीट्यूशन ऑफ इंजीनियर्स (इंडिया) और इंस्टीट्यूशन ऑफ इलेक्ट्रॉनिक्स एंड टेलीकम्युनिकेशन इंजीनियर्स (इंडिया) के फेलो के रूप में चुने हैं और इंडियन सोसाइटी फॉर टेक्निकल एजुकेशन, बायोटेक रिसर्च सोसाइटी ऑफ इंडिया और एसोसिएशन ऑफ माइक्रोबायोलॉजिस्ट के सदस्य हैं। उन्होंने विभिन्न राष्ट्रीय संस्थानों जैसे दिल्ली विश्वविद्यालय, की सक्रियता से भी काम किया है और अन्तरराष्ट्रीय संस्थान जैसे कि पाडोवा विश्वविद्यालय, इटली, स्वाइनबर्न प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, ऑस्ट्रेलिया, मैनहेम इंस्टीट्यूट ऑफ एप्लाइड साइंस, जर्मनी, नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग, के साथ प्रौद्योगिकी प्रसार के लिए लिए भी कार्य किया हैं।

SHARE