पेट्रोल-डीजल की कीमतों में राहत, उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों को सब्‍सि‍डी का एलान…

नई दिल्‍ली। केंद्र सरकार ने तेल की ऊंची कीमतों से लोगों को राहत देने के लिए बड़ा फैसला किया है। मोदी सरकार ने शनिवार को पेट्रोल पर उत्पाद शुल्क में 8 रुपये प्रति लीटर और डीजल पर 6 रुपये प्रति लीटर की कटौती की घोषणा की। इससे पेट्रोल की कीमत 9.5 रुपये प्रति लीटर और डीजल की कीमत 7 रुपये प्रति लीटर कम हो जाएगी। केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि इस फैसले से हर साल लगभग 1 लाख करोड़ रुपये का राजस्व प्रभावित होगा।

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मुद्रास्फीति पर लगाम लगाने के लिए कई अन्य घोषणाएं कीं। उन्‍होंने कहा कि उज्ज्वला योजना के तहत सिलेंडर पर सब्सिडी प्रदान की जाएगी। उन्होंने राज्यों से आम आदमी को राहत देने के लिए पेट्रोलियम उत्पादों पर वैट कम करने का भी आग्रह किया। सरकार ने इसी तरह पिछले साल नवंबर में दिवाली की पूर्व संध्या पर पेट्रोल और डीजल पर उत्पाद शुल्क में कमी की थी।

केंद्र सरकार ने पिछले साल नवंबर में दिवाली की पूर्व संध्या पर पेट्रोल पर उत्पाद शुल्क में 5 रुपये प्रति लीटर और डीजल पर 10 रुपये प्रति लीटर की कमी की थी। केंद्रीय मंत्री सीतारमण ने कहा कि हम पेट्रोल पर केंद्रीय उत्पाद शुल्क में 8 रुपये प्रति लीटर और डीजल पर 6 रुपये प्रति लीटर की कमी कर रहे हैं। इससे पेट्रोल और डीजल की कीमतें कम हो जाएंगी। कुल मिलाकर पेट्रोल 9.5 रुपये प्रति लीटर और डीजल 7 रुपये प्रति लीटर सस्‍ता हो जाएगा।

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि हम प्लास्टिक उत्पादों के लिए कच्चे माल पर सीमा शुल्क भी कम कर रहे हैं। यहां हमारी आयात निर्भरता अधिक है। स्टील के कच्चे माल पर भी आयात शुल्क कम किया जाएगा। हालांकि कुछ इस्पात उत्पादों पर निर्यात शुल्क लगाया जाएगा। केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि सीमेंट की उपलब्धता में सुधार के लिए और सीमेंट की लागत को कम करने के लिए बेहतर लाजिस्टिक्स के जरिए उपाय किए जा रहे हैं।

उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों को सब्‍सि‍डी का एलान

केंद्र सरकार ने उज्ज्वला योजना के 9 करोड़ लाभार्थियों को 200 रुपये की सब्सिडी देने का भी फैसला किया है। केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आगे कहा- ‘हम प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के 9 करोड़ से अधिक लाभार्थियों को 200 रुपये प्रति गैस सिलेंडर (12 सिलेंडर तक) की सब्सिडी देंगे। इससे हमारी माताओं और बहनों को मदद मिलेगी।’

आपको बता दें कि केंद्रीय वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण की ओर से इन राहतों का एलान ऐसे वक्‍त में किया गया है जब विपक्ष की ओर से सरकार पर लगातार बढ़ती महंगाई को लेकर हमले किए जा रहे थे। कांग्रेस बढ़ती पेट्रोल डीजल की कीमतों के लिए लगातार सरकार को घेर रही थी। साथ ही ये एलान ऐसे समय किए हैं जब तमाम मीडिया रिपोर्टों में तेल कंपनियों को भारी घाटा होने के चलते डीजल पेट्रोल की कीमतों के बढ़ने की आशंकाएं जताई जा रही थी।