बिजनेस में ही नहीं, लोगों के दिलों में भी “जय भूतनाथ” ने बनाई अपनी अलग पहचान

Radheyshyam Vyas Jai Bhootnath
Radheyshyam Vyas Jai Bhootnath

बीकानेर abhayindia.com “जय भूतनाथ” नाम से जाने-पहचाने जाने वाले बीकानेर के समाजसेवी स्व. राधेश्याम व्यास ने न केवल ट्रांसपोर्ट व्‍यवसाय में, बल्कि लोगों के दिलों में भी अपनी अलग पहचान बनाई। ये उनके कठोर परिश्रम, निष्‍ठा और लगन का ही कमाल था कि उनका व्‍यवसाय केवल राजस्‍थान में ही नहीं, बल्कि देश के गुजरात, महाराष्‍ट्र, पंजाब, कर्नाटक आदि में भी खूब फला-फूला।

आपको बता दें कि जरूरतमंदों के लिए हरसमय तैयार रहने वाले “जय भूतनाथ” का निधन राजस्थान के बाड़मेर जिले के गुड़ामालानी में उनके मनवांछित स्थल आलम जी का धोरा के महादेव मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा के कार्यक्रम के दौरान उस महाउत्सव के महापूर्ण होने के बाद बीकानेर के लिए रवाना होते वक़्त हरि इच्छा से हुआ। आज 21 जून 2020 को उनकी नौवीं पुण्‍यतिथि हैं।

Jai Bhootnath Radhay Vyas
Jai Bhootnath Radhay Vyas

“जय भूतनाथ” के पुत्र भरत व्‍यास “लालू” बताते हैं कि साल भर के दौरान कई प्रकार के कार्यक्रम उनकी जीवन शैली में समाहित थे। इसमें मुख्य तौर पर शिवरात्रि श्रावण मास और श्रावण मास के दौरान श्रावण मास में आने वाली द्वितीया तिथि पर जगत सेठ द्वारिका नाथ के मंदिर जो कि चारों धाम में से एक धाम तथा सप्तपुरी में से एक पुरी है वहां वर्ष 2010 से शुरू 100 साल की ध्वजा का आशीर्वाद प्राप्त हुआ। ये कार्यक्रम आज भी भगवत कृपा से भूतनाथ की अनन्य भक्ति के फल स्वरूप निरंतर चालू है।

भरत व्‍यास “लालू” बताते हैं कि उनका एक कथन सदैव याद आता है- “जब तुझसे न सुलझे तेरे उलझे धंधे द्वारिकाधीश के इंसाफ पर सब छोड़ दे बंदे”, “खुद ही तेरी मुश्किल वो आसान करेगा] जो तू न कर पाया वो द्वारिका नाथ करेगा।”

Radheyshyam Vyas Jai Bhootnath Bikaner
Radheyshyam Vyas Jai Bhootnath Bikaner

उनकी इसी प्रेरणा से आज भी मैं और पूरा अबोहर फाजिल्का रोड लाईस परिवार जय भूतनाथ सेवा संस्थान ट्रस्ट परिवार लाभान्वित हो रहे हैं। बाबा भूतनाथ की ओर द्वारिका नाथ की कृपा AFRL के सभी कर्मचारियों के परिवार जनों पर मुझ पर और मेरे परिवार जनों पर सदैव बनी रहें।

जय भूतनाथ नाम से मशहूर हुए बीकानेर के प्रमुख समाजसेवी राधेश्‍याम व्‍यास की नौवीं पुण्‍यतिथिके अवसर पर रविवााारर को जय भूतनाथ सेवा संस्‍थान ट्रस्‍ट की ओर से जयपुर रोड  स्थित अपनाघर आश्रम में माधव सेवा की गई।

radheyshayam vyas jai bhootnath bikaner
radheyshayam vyas jai bhootnath bikaner

ट्रस्‍ट के ट्रस्‍टी भरत व्‍यास (लालू) ने बताया कि 21 जून को  राधेश्‍याम व्‍यास (जय भूतनाथ) की पुण्‍यतिथि के अवसर पर हर साल अपनाघर आश्रम में पूरे दिन हमें माधव सेवा करने का अवसर मिल रहा है। इस पुण्‍यार्थ काम के लिए हम परम पिता परमेश्‍वर और आश्रम के संचालकों का अंतर्मन से आभार व्‍यक्‍त करते हैं।

आपको बता दें कि जय भूतनाथ सेवा संस्‍थान ट्रस्‍ट की ओर से हर साल महाशिवरात्रि तथा राधेश्‍याम व्‍यास (जय भूतनाथ) की पुण्‍यतिथि के अवसर सामाजिक सरोकार से जुडे कार्यक्रम किए जाते हैं। इसी क्रम में शुक्रवार को आश्रम में माधव सेवा के तहत पूरे दिन वहां रहने वाले जरूरतमंदों को नाश्‍ता, भोजन व मेडिकल संबंधी सेवा कार्य किए जाते हैं।

SHARE
https://abhayindia.com/ बीकानेर की कला, संस्‍कृति, समाज, राजनीति, इतिहास, प्रशासन, धोरे, ऊंट, पर्यटन, तकनीकी विकास और आमजन के आवाज की सशक्‍त ऑनलाइन पहल। Contact us: abhayindia07@gmail.com : 9829217604