सुबह-सुबह संजय राउत के घर पहुंची ईडी की टीम, राउत बोले- झूठी कार्रवाई, झूठे सबूत…

Enforcement Directorate (ED)
Enforcement Directorate (ED)

नई दिल्‍ली Abhayindia.com प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की टीम आज सुबह शिवसेना से राज्यसभा सांसद संजय राउत के मुंबई स्थित घर पर पहुंची है। ईडी की टीम शिवसेना से राज्यसभा सांसद संजय राउत के मुंबई के भांडुप स्थित ‘मैत्री’ आवास पर जांच कर रही है।

एएनआई के अनुसार, आज सुबह करीब 7 बजे ईडी की टीम संजय राउत के आवास पर पहुंची। चॉल भूमि घोटाला मामले में संजय राउत से पूछताछ भी हो रही है। छापेपारी की सूचना मिलते ही भारी संख्या में शिवसैनिक संजय राउत के आवास पर जुटने लगे है। इस बीच, संजय राउत ने ट्वीट कर कहा कि … झूठी कार्रवाई, झूठे सबूत… मैं शिवसेना नहीं छोड़ूंगा। मैं मर भी जाऊं तो भी आत्मसमर्पण नहीं करूंगा। मेरा किसी घोटाले से कोई लेना-देना नहीं है। राउत ने अपने वकीलों के जरिए सूचना भेजी कि संसद सत्र के कारण वह 7 अगस्त के बाद ही पेश हो सकते हैं। ईडी इस मामले में दादर और अलीबाग में राउत की संपत्तियों को कुर्क कर चुकी है। राउत को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया जा सकता है।

आपको बता दें कि संजय राउत के खिलाफ 1034 करोड़ रुपये के पात्रा चॉल घोटाले से जुड़े मनी लान्ड्रिंग मामले में जांच चल रही है। उन्हें ईडी कई बार समन जारी कर चुकी है। लेकिन किसी न किसी कारण से राउत ईडी के सामने पेश नहीं हो रहे हैं। इससे पहले उन्होंने उपराष्ट्रपति चुनाव के लिए चल रहे प्रचार अभियान का हवाला देते हुई ईडी से पेशी के लिए और समय मांगा था। संजय राउत इस मामले में मुख्य आरोपी हैं।

इधर, सोशल मीडिया पर शिवसेना सांसद संजय राउत की कथित ऑडियो क्लिप वायरल हो रही है। इस मामले को राज्य सरकार ने गंभीरता से लिया है। बताया जा रहा है कि महाराष्ट्र सरकार ने पुलिस विभाग को इस क्लिप को लेकर जांच करने के आदेश दिए हैं। इस मामले में संबंधित पीड़ित महिला ने पुलिस थाने में भी शिकायत दर्ज कराई है। पात्रा चॉल मामले में और इस क्लिप को लेकर पीड़ित महिला ने ईडी में भी शिकायत दर्ज कराई है। कथित क्लिप में साफ तौर पर सुनाई पड़ता है कि जमीन नाम पर करने के संबंध में संजय राउत संबंधित महिला को धमका रहे हैं और साथ ही गाली गलौज करते सुनाई दे रहे हैं। ऑडियो क्लिप को लेकर महिला ने आरोप लगाया कि शिवसेना सांसद संजय राउत ने उन्हें जमीन को लेकर धमकी दी और गालियां दी हैं।