20.6 C
Bikaner
Monday, February 6, 2023

आसाराम केस : अहम गवाह को जान का खतरा

Ad class= Ad class= Ad class= Ad class=

जोधपुर (अभय इंडिया न्यूज)। आसाराम व उसके पुत्र नारायण साईं के खिलाफ चल रहे केसों में अहम गवाह पानीपत के गांव सनौली निवासी महेंद्र चावला ने अतिरिक्त सुरक्षा की मांग की है। उन्होंने कहा कि मैं न्यायपालिका पर भरोसा करता हूं और मुझे विश्वास है कि आसाराम को सजा मिलेगी। मैं न्यायपालिका से अनुरोध करता हूं कि ऐसे दुष्कर्मियों को फांसी दी जानी चाहिए। हालांकि मेरे पास सुरक्षा है लेकिन मैं अतिरिक्त सुरक्षा के लिए केंद्र से अनुरोध करता हूं। अन्य गवाहों की तरह मेरा जीवन लगातार खतरे में है।

Ad class= Ad class= Ad class=

उल्लेखनीय है कि पीडि़ता ने जब आसाराम पर यौन उत्पीडऩ के आरोप लगाए थे तब वह छिंदवाड़ा आश्रम के कन्या छात्रावास में 12वीं कक्षा में पढ़ती थी। जानकारी के अनुसार पीडि़ता के पिता के पास 7 अगस्त,2013 को छिंदवाड़ा आश्रम से फोन आया कि उनकी बेटी बीमार है। इस पर पीडि़ता के पिता वहां पहुंचे तो उन्हे बताया गया कि उनकी बेटी पर भूत-प्रेत का साया है, जिसे सिर्फ आसाराम ही ठीक कर सकते हैं। पीडि़ता के माता-पिता अपनी बेटी के साथ 14 अगस्त को आसाराम से मिलने जोधपुर आश्रम में पहुंचा। इसके अगले दिन 15 अगस्त को आसाराम पे 16 साल की पीडि़ता को अपनी कुटिया में बुला लिया और उसके साथ 1 घंटे तक यौन उत्पीडऩ किया। पीडि़ता ने इस मामले की जानकारी अपने माता-पिता को दी तो उन्होंने 20 अगस्त,2013 को दिल्ली कमलानगर पुलिस थाने में रात 2 बजे एफआरआर दर्ज कराई थी। मामला जोधपुर ट्रांसफर कर दिया गया। जोधपुर पुलिस ने जांच के बाद आसाराम को 30 अगस्त की आधी रात इंदौर स्थित आश्रम से गिरफ्तार किया था।

Ad class= Ad class=

पीडि़ता के घर की सुरक्षा बढ़ी

उत्तर प्रदेश में शाहजहांपुर में पीडि़ता के घर पर पांच पुलिसकर्मी तैनात किए गए हैं। शाहजहांपुर के पुलिस अधीक्षक के. बी.सिंह ने बताया कि पीडि़ता के घर के बाहर सीसीटीवी कैमरों से भी निगरानी की जा रही है।

Abhay India
Abhay Indiahttps://abhayindia.com
बीकानेर की कला, संस्‍कृति, समाज, राजनीति, इतिहास, प्रशासन, पर्यटन, तकनीकी विकास और आमजन के आवाज की सशक्‍त ऑनलाइन पहल। Contact us: [email protected] : 9829217604

Related Articles

Latest Articles