सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों में कोरोना का उपचार सुनिश्चित हो – उच्च शिक्षा मंत्री

उच्च शिक्षा राज्यमंत्री भंवर सिंह भाटी Minister of State for Higher Education Bhanwar Singh Bhati
उच्च शिक्षा राज्यमंत्री भंवर सिंह भाटी Minister of State for Higher Education Bhanwar Singh Bhati

बीकानेर abhayindia.com उच्च शिक्षा मंत्री भंवर सिंह भाटी ने कोरोना संक्रमण को रोकने एवं संक्रमित मरीजों के लिए उपलब्ध करवाई जा रही चिकित्सा सुविधाओं की जानकारी ली और निर्देशित किया है कि कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए कोलायत क्षेत्र के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों पर आवश्यक संसाधनों जैसे कोविड टेस्ट, दवाइयां, बैड, ऑक्सीजन, वेंटिलेटर, वैक्सीन आदि की उपलब्धता सुनिश्चित की जाए।

उच्च शिक्षा मंत्री भाटी ने सोमवार को अपने विधानसभा क्षेत्र श्रीकोलायत के गजनेर, कोलायत, गड़ियाला, देशनोक, हदां, बज्जू के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों के चिकित्सा प्रभारियों और ब्लाॅक सीएमओ से दूरभाष पर चर्चा की और आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। उन्होेंने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. सुकुमार कश्यप से कोलायत क्षेत्र में कोविड-19 से संक्रमित रोगियों और उनके उपचार के बारे में फीडबैक लिया और निर्देश दिए कि सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में उपचार से जुड़े सभी आवश्यक प्रबंध होने चाहिए। मंत्री भाटी ने कहा कि कोरोना की जाँच की व्यवस्था भी हो, जिससे जिला चिकित्सालय पर अनावश्यक दबाव न रहे।

उच्च शिक्षा मंत्री ने निर्देेश दिए कि दवाइयों, ऑक्सीजन एवं वेंटिलेटर के समुचित प्रबंध सुनिश्चित करें। चिकित्सालय में दवाईयों, रेमडेसिविर इंजेक्शन एवं गैस सिलेण्ड़रों की उपलब्धता के साथ उपलब्ध वेंटिलेटरों की भी जानकारी ली। उन्होंने निर्देश दिए कि आवश्यकतानुसार सामुदायिक स्वास्थ्य केेन्द्रों पर कोविड बैड का भी प्रबंध किया जाए। उन्होंने ग्रामीण क्षेत्र में कोविड टीकाकरण पर जोर दिया और कहा कि सभी पात्र व्यक्तियों का टीकाकरण हो, यह सुनिश्चित किया जाए।

मंत्री भाटी ने जिला कलक्टर नमित मेहता से जिले में कोरोना संक्रमण की रोकथाम एवं लोगों को कोरोना गाइडलाइन का पालन करवाये जाने के लिये संचालित गतिविधियों की दूरभाष पर जानकारी ली और कहा कि आमजन को कोरोना गाइडलाइन के संबंध में जागरूक किया जाए। उन्होंने जिला कलक्टर से जिले में कोविड-19 के प्रबंधन और आगामी दिनों की सम्भावित स्थिति और आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए प्रबंध करवाने पर जोर दिया। साथ ही, ग्रामीण क्षेत्र के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों में जरूरत के मुताबिक कोविड केयर सेंटर के रूप में विकसित करने पर भी चर्चा की।

SHARE