गीता, रामायण पाठी स्व.रामादेवी की स्मृति में अरुंधती ऋषिका सम्मान व्यास को

बीकानेर abhayindia.com समाजसेविका गीता रामायण की प्रचारक स्व.रामा देवी शर्मा की प्रथम पुण्यतिथि के अवसर पर बीकानेर के विभिन्न सामाजिक, धार्मिक व राजनीतिक क्षेत्र के विद्वानों ने श्रद्धासुमन अर्पित किए तथा राकावत देशस्थ ऋग्वेदी ब्राह्मण महासभा के दवरा स्व. शर्मा की स्मृति में संस्कृत भाषा व गीता रामायण के प्रचार प्रसार के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने पर गीता रामायण पाठशाला की वयोवृद्ध पूर्व अध्यापिका  रामा देवी व्यास (दाधीच) को अरुंधती ऋषिका सम्मान से सम्मानित किया गया। व्यास को शाल, श्रीफल, अभिनन्दन पत्र सम्मान राशि व माल्यार्पण किया गया।

इस अवसर पर महासभा के प्रदेशाध्यक्ष शास्त्री पंडित गायत्री प्रसाद शर्मा ने बताया कि व्यास ने अपने जीवनकाल में सैंकड़ों शिष्यों को निस्वार्थ भाव से गीता,रामायण व संस्कृत भाषा का अध्ययन करवाया है तथा इस क्षेत्र में विशेषरूप से महिला शिक्षा को प्रोत्साहन दिया है स्व.रामा देवी जी की आप गुरु थे आपसे है उन्होंने अध्ययन किया तथा समाज में महिला वर्ग में संस्कृत भाषा का गीता व रामायण के माध्यम से प्रचार प्रसार करते हुए अपना जीवन समर्पित किया।

…तो इसलिए देर रात को कमलनाथ ने राज्यपाल टंडन से मुलाकात की

शास्त्री पंडित यज्ञ प्रसाद शर्मा ने स्व रामा देवी के व्यक्तित्व व कृतत्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि वे महिला लोक संगीत, भजन व सामाजिक उत्सवों के गीतों पर महारथ प्राप्त था तथा गीता जी के श्लोक व रामायण की चौपाइया कंथस्ठ थी उनका असमय चले जाना समाज के लिए अपूरणीय क्षति हुई है।

गुड न्‍यूज : राजस्थान में हारा कोरोना, 4 पॉजिटिव मरीजों में से 3 की रिपोर्ट निगेटिव, सीएम ने कहा…

कार्यक्रम में गायत्री मंदिर के अधिष्ठाता पंडित बंशीलाल शर्मा,वेदप्रकाश शर्मा,नारायण प्रसाद,कैलाश शर्मा,उत्तम शर्मा ऋग्वेद ,चन्द्रकला, सीमादेवी, अनुराधा, निशादेवी, सीमासिंह, अनुसूया, पलक, आरती, नेहा आदि ने श्रद्धांजली अर्पित की।
SHARE
https://abhayindia.com/ बीकानेर की कला, संस्‍कृति, समाज, राजनीति, इतिहास, प्रशासन, धोरे, ऊंट, पर्यटन, तकनीकी विकास और आमजन के आवाज की सशक्‍त ऑनलाइन पहल। Contact us: abhayindia07@gmail.com : 9829217604