समूह चर्चा प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए आवश्यक : व्यास

Binani Kanya Mahavidyalaya
Binani Kanya Mahavidyalaya

बीकानेर Abhayindia.com बिनानी कन्या महाविद्यालय में महाविद्यालय के तीनों ईकाइयों के संयुक्त तत्वावधान में सात दिवसीय विशेष शिविर के पांचवें दिन आज प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कैसे करें विषय पर परिचर्चा, सामान्य ज्ञान प्रतियोगिता, नेत्र जांच शिविर तथा श्रमदान जैसे गतिविधियों का आयोजन किया गया।

एनएसएस प्रभारी डॉ. सीमा भट्ट ने बताया कि शिविर के प्रथम चरण में प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी कैसे करें विषय पर एक परिचर्चा का आयोजन किया गया। महाविद्यालय प्रबन्ध समिति सचिव गौरीशंकर व्यास ने परिचर्चा में बताया कि छात्राएं समय-समय पर अपने सामान्य ज्ञान, तर्कशक्ति, हिन्दी, अंग्रेजी आदि विभिन्न विषयों पर समुह चर्चा का आयोजन कक्षा-कक्षों में करती रहें ताकि उन्हें सम-सामयिक गतिविधियों की पर्याप्त जानकारी उपलब्ध हो सकें। व्यास ने बताया कि महाविद्यालय का पुस्तकालय अत्यन्त विपुल है जहां विभिन्न विषयों की सन्दर्भ पुस्तकें उपलब्ध है जिनका प्रयोग छात्राएं निरन्तर करें तो किसी भी प्रतियोगी परीक्षा को आसानी से पास कर सकती है।

परिचर्चा में छात्राओं को सम्बोधित करते हुए महाविद्यालय प्रवक्ता नरेन्द्र शर्मा ने बताया कि किसी भी छात्रा को सर्वप्रथम अपना लक्ष्य निर्धारित करना आवश्यक है आगे बोलते हुए उन्होंने छात्राओं को कहा कि अगर आप सफलता को निश्चित करना चाहते है तो नियमित अध्ययन पूर्ण मनोयोग के साथ करना आवश्यक है। प्रतियोगिता परीक्षा की सफलता के लिए छात्रा को अपना मानसिक एवं मनोवैज्ञानिक विकास करना जरूरी है। इसी क्रम में वाणिज्य प्रवक्ता रविकांत व्यास ने बताया कि लक्ष्यहीन मनुष्य की स्थिति एक अंधे मनुष्य से भी बदतर होती है। छात्राओं को सम्बोधित करते हुए महाविद्यालय के अंग्रेजी प्रवक्ता गजानन्द व्यास ने बताया कि परीक्षा से 10-15 दिन पहले अध्ययन की गई सामग्री को पुनः अध्ययन करना भी आवश्यक है।

एनएसएस अधिकारी डॉ. अनिता मोहे भारद्वाज के नेतृत्व में आज आई टैस्ट कैम्प को आगे बढ़ाते हुए विभिन्न छात्राओं एवं प्रवक्ताओं के आंखों की जांच की गई। डॉ. मोहे ने बताया कि ए.एस.जी. अस्पताल के निर्देशन में छात्राओं एवं प्रवक्ताओं की नेत्रों की जांच कोविड-19 की अनुपालना करते हुए जांच करवायी गई।

एनएसएस प्रभारी मुकेश बोहरा के नेतृत्व में रासेयो की एक इकाई ने महाविद्यालय परिसर के बाहर आने-जाने वाले लोगों को कोविड-19 के अनुरूप व्यवहार करने की जानकारी दी गई। जिसमें छात्राओं ने लोगों को मास्क पहनने के लिए प्रेरित किया और साथ ही समय पर टीकाकरण करवाने की सलाह भी दी। प्राचार्या डॉ. चित्रा पंचारिया ने बताया कि एनएसएस शिविर में सभी गतिविधियों का आयोजन कोविड अनुरूप व्यवहार के साथ हो रहा है। सभी छात्राऐं मास्क पहने रखती है तथा एक दूसरे से दूरी की पालना भी की जा रही है।

पूर्व मंत्री भाटी ने एक बार फिर चढ़ाई बांहें, अबकी बार दी धरने के अलावा भूख हड़ताल की चेतावनी…

तलवारबाजी-फायरिंग के मामले में अब तक 8 आरोपी गिरफ्तार, दुकान को किया…

राजस्‍थान : 8 दिन में 8 गुना बढ़ गए कोरोना के एक्टिव केस, सबसे ज्‍यादा जयपुर में, बीकानेर में…