बीकानेर संभाग की 2296 सहकारी समितियों की होगी ऑडिट, विभिन्न गतिविधियों के लिए समय अवधि निर्धारित…

Abhay India
Abhay India

बीकानेर Abhayindia.com सहकारी समितियों के संचालक मण्डल की ओर से वर्ष 2021-22 के आँकड़ों की ऑडिट के लिए स्वयं प्रस्ताव लेकर विभागीय पैनल के सी.. या सी.. फर्म को लगाने या विभागीय ऑडिटर के पैनल को चुनने की अंतिम तारीख आगामी 31 मई निर्धारित की गई है।

सहकारी समितियों के क्षेत्रीय अंकेक्षण अधिकारी राजेश टाक ने बताया कि यह नियुक्ति करते हुए इसके प्रस्ताव 31 मई तक पोर्टल पर अपलोड करना जरूरी है। साथ ही प्रस्ताव की प्रमाणित प्रति ऑडिट से संबंधित रजिस्ट्रार संयुक्त मुख्य अंकेक्षक (जनरल या दुग्ध) जयपुर, क्षेत्रीय अंकेक्षण अधिकारी या संबंधित विशेष लेखा परीक्षक को देनी होगी।

टाक ने बताया कि राजस्थान सहकारी सोसायटी अधिनियम 2001 की धारा 54 व नियम 73 के अनुसार ऑडिटर की नियुक्ति कर 30 सितम्बर तक ऑडिट व आमसभा करवानी तथा आमसभा में ऑडिट आक्षेपों की पूर्ति कर पूर्ति रिपोर्ट रजिस्ट्रार को प्रस्तुत करनी आवश्यक है। इसमें असफल रहने पर सोसायटी के संचालक मण्डल के दोषी सदस्यों को अधिनियम की धारा के प्रावधानों के तहत निर्योग्‍य ठहराया जा सकता है। यह सदस्य आगामी 6 साल तक इस सोसाईटी का चुनाव लड़ने से भी निर्योग्‍य हो जाएगा।

उन्होंने बताया कि बीकानेर खण्ड के बीकानेर, चूरू, श्रीगंगानगर, व हनुमानगढ़ में कुल 2 हजार 296 सहकारी समितियों की ऑडिट इस वर्ष करवाई जानी है। इनमें 54 केन्द्रीय समितियां हैं। ऑडिट से गत वर्ष शेष रही समितियों की ऑडिट भी इसके साथ ही की जानी है।