बीकानेर पश्चिम सीट : बदल सकती है टिकट…कल्ला-किराड़ू दोनों को उम्मीद!

सुरेश बोड़ा/बीकानेर (अभय इंडिया न्यूज)। बीकानेर पश्चिम सीट पर इस बार कांग्रेस की ओर से टिकट वितरण को लेकर किए गए बड़े उलटफेर के बाद अब खबर आ रही है कि दिल्ली में पार्टी हाईकमान इस सीट को लेकर पुनर्विचार कर रही है। पार्टी ने गुरुवार देर रात बीकानेर पश्चिम से यशपाल गहलोत को अपना प्रत्याशी घोषित है। इसके बाद से टिकट के प्रबल दावेदार बी. डी. कल्ला और राजकुमार किराड़ू के समर्थकों में मायूसी छाई है। खासतौर से कल्ला के समर्थकों ने देर रात से लेकर शुक्रवार दोपहर तक खूब बवाल मचाया।

इस बीच शाम को कल्ला ने पहले तो वीडियो के माध्यम से अपने समर्थकों को संयमित रहने की अपील की, बाद में उनसे बातचीत में आश्वस्त किया कि इस सीट पर पुनर्विचार को लेकर हाईकमान ने आश्वासन दिया है। इस दरम्यान कल्ला ने मीडिया से बातचीत में फिलहाल निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में चुनाव लडऩे से इंकार किया है।

इधर, टिकट पर पुनर्विचार की बात उठने के साथ ही दूसरे तगड़े दावेदार राजकुमार किराड़ू एकबार फिर दिल्ली ही ठिठक गए है। वे पहले बीकानेर आने वाले थे, लेकिन जैसे ही उन्हें पता चला कि सीट को लेकर पुनर्विचार चल रहा है तो वे ठहर गए, जबकि बीकानेर में उनके समर्थक लगातार राहुल गांधी के ट्विटर व ई-मेल पर उनके पक्ष में मैसेज भेज रहे हैं।

बहरहाल, पार्टी सूत्रों की मानें तो टिकट वितरण के बाद हालांकि उसमें बदलाव की संभावना बहुत ही कम रहती है, लेकिन पुष्करणा बाहुल्य क्षेत्र के मद्देनजर पार्टी हाईकमान को भी यह लग रहा है कि यह अप्रत्याशित निर्णय कहीं पार्टी के लिए नुकसानदायक न साबित हो जाए। सूत्र यह भी बताते हैं कि पार्टी ने जिले की सातों सीटों में से एक पर भी ब्राह्मण वर्ग से टिकट नहीं दी है, इससे उनके असंतोष को झेलना पड़ सकता है। पार्टी ने बीकानेर पूर्व में भी बाहरी प्रत्याशी उतारकर दूसरा जोखिम ले रखा है, इसका भी पार्टी के ही नेता विरोध कर रहे हैं। अब यह देखना बेहद दिलचस्प होगा कि पार्टी अपने अप्रत्याशित निर्णय पर अडिग रहती है, या फिर समय रहते अपनी रणनीति में कोई बदलाव लाती है।

गोपाल गहलोत बने ‘बागी बम’, दो सीटों से चुनाव लडऩे का ऐलान

तीसरे मोर्चे की पहली पसंद बनी डूडी की भानजी इंदु नोखा से भरेगी पर्चा!

टिकट कटने से कल्ला के समर्थकों में गुस्सा, डूडी मुर्दाबाद के लगाए नारे