राजस्थान में वैलेंटाइन डे बना सियासी मसला, सरकार ने किया ये फैसला…

जयपुर (अभय इंडिया न्यूज) हर साल 14 फरवरी को भले ही दुनिया भर मेंं प्यारमोहब्बत का दिन वैलेंटाइन डे मनाया जाता हो, पर राजस्थान में यह सियासी मसला बन गया है। प्रदेश की पूर्ववर्ती वसुंधरा सरकार ने इस दिन को राज्य के स्कूलों मेंं मातृपितृ पूजन दिवस के तौर पर मनाने का ऐलान किया था, लेकिन सत्ता बदलने के साथ ही इस फैसले पर शिक्षा विभाग ने रोक लगा दी है।

आपको बता दें कि पिछली सरकार में शिक्षा राज्य मंत्री रहे वासुदेव देवनानी ने वैलेंटाइन्स डे को पश्चिमी संस्कृति बताते हुए राज्य के स्कूलों मेंं मातृपितृ पूजन दिवस के तौर पर मनाने का ऐलान विधानसभा मेंं किया था। इसके बाद शिविरा पंचाग मेंं हर साल मनाना भी तय किया गया। अब शिक्षा राज्य मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने साफ कहा कि वैलेंटाइन डे पर मातृपितृ पूजन दिवस नहींं मनाया जाएगा, क्योंकि हमारी संस्कृति मेंं मातापिता की पूजा हर दिन की जाती है। ऐसे मेंं कोई एक दिन इसके लिए नहींं तय किया जा सकता है। डोटासरा ने इसे पिछली वसुंधरा सरकार का महज दिखावा बताया।

अब बच्चे के जन्म के साथ सरकार देगी ‘कुंडली’, भाग्य भी बताएगी, ये हैं योजना…

बिजली चोरों पर नकेल कसने के लिए कसी कमर, अगले महीने से…