बिजली चोरों पर नकेल कसने के लिए कसी कमर, अगले महीने से…

जयपुर/जोधपुर (अभय इंडिया न्यूज) प्रदेश में बिजली चोरों पर नकेल कसने के लिए ऊर्जा विभाग ने अब कमर कस ली है। विभाग ने जोधपुर सहित तीनों डिस्कॉम को एक साथ उपभोक्ता टैगिंग सिस्टम अगले माह तक पूरा करने का लक्ष्य दिया है। 

आपको बता दें कि बिजली चोरी छीजत को कम करने के लिए विभाग उपभोक्ताओं को टैग करने की तैयारी कर रहा है। यह टैगिंग ट्रांसफार्मर स्तर तक होगी। इसमें डिस्कॉम सिस्टम के जरिये जितनी बिजली उस ट्रांसफार्मर से प्रवाहित हो रही है और जितना बिल उससे जुड़े उपभोक्ताओं से रहा है वह जांचा जाएगा। इसके बाद जिस ट्रांसफार्मर पर सर्वाधिक बिजली चोरी पकड़ी जाएगी, उस क्षेत्र को ब्लैक लिस्टेड करते हुए बिजली चोरो को पकडऩे के लिए अभियान चलाया जाएगा।

जानकारी में रहे कि फिलहाल बिजली का बिल एक एईएन कार्यालय से बनता है। उनके अधीन कई जीएसएस होते हैं। एक जीएसएस पर तीन से चार फीडर होते हैं। अभी तक फीडर लॉसेस तक की बिजली चोरी ट्रेस की जाती है। अब एक फीडर के अधीन आने वाले कई ट्रांसफार्मर पर डिवाइस लगाने की तैयारी है। इससे उस ट्रांसफार्मर से दी गई बिजली बिल की गणना की जा सकेगी।

नए सिस्टम के लिए प्रमुख शासन सचिव नरेश पाल गंगवान ने हाल में तीनों डिस्कॉम के अधिकारियों की वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये बैठक लेते हुए इस कार्य को 31 मार्च तक पूरा करने का लक्ष्य दिया है।

अब बच्चे के जन्म के साथ सरकार देगी ‘कुंडली’, भाग्य भी बताएगी, ये हैं योजना…

लालगढ़ रेलवे स्टेशन पर बोगी में लगी आग