…ताकि कायदे से हो सभी कार्य, रेलवे ने मनाया सतर्कता जागरुकता सप्ताह

बीकानेर Abhayindia.com उत्तर पश्चिमी रेलवे की ओर से चलाया जा रहा सतर्कता जागरुकता सप्ताह का समापन गुरुवार को हुआ।

इस मौके पर मुख्यालय स्थित कार्यालय में संगोष्ठी आयोजित की गई। कार्यक्रम में उत्तर पश्चिमी रेलवे के महाप्रबंधक आनंद प्रकाश ने कहा कि सतर्कता का मुख्य उद्देश्य व्यवहारिक परिवर्तन लाना होना चाहिए। विजिलेस का तात्पर्य यह संदेश देना भी है कि सभी कार्य नियम कायदे और कानून से होते हैं चाहे व्यक्ति कितना भी बड़ा अधिकारी ही क्यों ना हो। उन्हें अपना कार्य करते समय सत्यनिष्ठा बरकरार रखनी चाहिए। अगर वास्तविकता के साथ कार्यवाही की जाती है तो विजिलेंस केस कम होते है।

लोक सेवक होने के कारण हमारा जन साधारण में यह मैसेज जाना चाहिए कि कार्यवाही नियमानुसार एवं निष्पक्ष हो रही है। किसी भी कार्य में देरी होना अपने आप में कुछ गड़बड़ी होने को दर्शाता है। कार्य में देरी ना करें साथ ही लिखने से पूर्व पूरा पढ़े ताकि गलती होने की संभावना नगण्य हो। मुख्य सतर्कता अधिकारी सतीश कुमार ने सतर्कता बुलेटिन का विमोचन किया।

सतर्कता जागरूकता के लिए रेल मंत्री पीयूष गोयल ने वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से रेलकर्मियों को सत्यनिष्ठा की शपथ दिलवाई गई। साथ ही सप्ताह के दौरान हुई गतिविधियों का संक्षिप्त विवरण प्रस्तुत किया।