दिल्‍ली पुलिस को लेकर सीएम गहलोत का बड़ा बयान, कहा- यह तानाशाही का रिहर्सल…

Ashok Gehlot Chief Minister Rajasthan
Ashok Gehlot Chief Minister Rajasthan

जयपुर Abhayindia.com मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत ने कांग्रेस सांसद राहुल गांधी से ईडी की पूछताछ के दौरान कांग्रेस नेताओं के साथ दुर्व्यवहार और एआईसीसी मुख्यालय में कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ की गई पुलिस मारपीट को लेकर कहा है कि दिल्ली पुलिस ने जिस तरह का आतंक मचाया, उससे पता चलता है कि यह तानाशाही शासन का रिहर्सल है।

सीएम गहलोत ने आज एआईसीसी मुख्यालय में पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा कि दिल्ली पुलिस का रवैया बेमिसाल था आज तक ऐसा रवैया कभी भी पुलिस का सामने नहीं आया। राजनीतिक आंदोलन होते रहते हैं, विपक्षी पार्टियां आंदोलन करती हैं लेकिन दिल्ली पुलिस ने जिस तरह से हमारे नेताओं को टारगेट किया। खास तौर पर महिला कांग्रेस और हमारे वरिष्ठ नेताओं के साथ दुर्व्यवहार किया, इससे पता चलता है कि देश में तानाशाही शासन की नींव पड़ चुकी है और तानाशाही शासन होगा तो किस तरह का होगा। तानाशाही शासन में पुलिस किस तरह का व्यवहार करेगी, यह देखने को मिल रहा है। देश के लिए यह बहुत ही खतरनाक स्थिति है।

सीएम गहलोत ने कहा कि देश एक और अखंड रहे। इसके लिए कांग्रेस के नेताओं ने अपने प्राणों की आहुति दी है। इंदिरा गांधी, राजीव गांधी और सरदार बेअंत सिंह देश को अखंड रखने के लिए शहीद हो गए। बीजेपी के कांग्रेस मुक्त भारत वाले बयान पर भी निशाना साधते हुए कहा कि बीजेपी के लोग और प्रधानमंत्री मोदी कांग्रेस मुक्त भारत की बात करते हैं लेकिन ये लोग नहीं जानते कि कांग्रेस और देश का डीएनए एक है। हमारे सिद्धांत और कल्चर वही है जो देश संविधान का है।

उन्‍होंने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार ने युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ किया है। युवा नौकरी का इंतजार कर रहे थे। उनकी परीक्षा और फिजिकल टेस्ट तक की हो गए थे लेकिन केंद्र सरकार अग्निपथ योजना को ले आई, जिस कारण आज देश भर में छात्र आंदोलन कर रहे हैं। छात्र उद्वेलित हैं, सीएम गहलोत ने कहा कि हम हिंसक प्रदर्शनों का समर्थन नहीं करते हैं। युवाओं से भी अपील करते हैं कि वह शांतिपूर्ण तरीके से अपनी बात रखें।