बीकानेर तकनीकी विश्विद्यालय: ग्रामीण उद्यमिता मिशन के रूप में मिली मान्यता

बीकानेरAbhayindia.com महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण शिक्षा परिषद, उच्च शिक्षा विभाग, मानव संसाधन विकास मंत्रालय भारत सरकार की ओर से बीकानेर तकनीकी विश्वविद्यालय को ग्रामीण उद्यमिता मिशन के सदस्य के रूप में मान्यता प्रदान की गई है।

विश्वविद्यालय के ग्रामीण प्रबंधन में किए गए सराहनीय कार्यो को रेखांकित करते हुए मिशन के चैयरमेन डॉ.प्रसन्ना कुमार ने विश्वविद्यालय को प्रमाण-पत्र प्रदान किया गया। इस अवसर पर कुलपति प्रो.एच.डी.चारण ने कहा कि यह प्रमाण-पत्र सामाजिक उद्यमिता, स्वच्छता एवं ग्रामीण उद्यमिता क्षेत्र में सराहनीय कार्य करने के लिए प्रदान किया गया है।

विश्वविद्यालय ग्रामीण विकास की अवधारणा को साकार करने एवं मूर्त रूप देने के लिए अपने नवाचार कर रहा है। विश्वविद्यालय के जनसम्पर्क अधिकारी एसके महला और सहायक जनसम्पर्क अधिकारी विक्रमसिंह राठौड़ के अनुसार विश्वविद्यालय ने बीकानेर के पलाना गांव को गोद लिया व नवाचारों के माध्यम से अपने सामाजिक सरोकार के दायित्व का निर्वाह किया है।

निदेशक अकादमिक डा. यदुनाथ सिंह ने बताया की बीकानेर तकनीकी विश्वविद्यालय में ग्रामीण उद्यमिता को बढ़ावा देने के लिए एवं आत्मनिर्भर भारत मिशन में सहयागे करने के लिए ग्रामीण उद्यमिता विकास प्रकोष्ठ की स्थापना की गई है।

विश्वविद्यालय के लिए गौरव की बात है कि उन्हें ग्रामीण उद्यमिता मिशन के सदस्य के रूप में मान्यता प्रदान की गई है साथ ही विश्वविद्यालय ने अपनी भविष्य की कार्य योजनाओं में नए मुद्दों को भी शामिल किया है कार्ययोगना पर प्रकाश डालते हुए प्रकोष्ठ की संयोजक डॉ. ममता शर्मा पारीक ने बताया कि वर्तमान में वैश्विक महामारी कोविड-19 के समय में छात्रों को स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करने के लिए योगा कार्यक्रम, पर्यावरण संरक्षण के लिए पौधरोपण किया गया है। कोविड-19 महामारी के इस दौर में विद्यार्थियों एवं समाज को जागरूक करने के लिए सामाजिक उत्तरदायित्व प्रकोष्ठ की ओर से मास्क वितरण करवाए गए। बीकानेर तकनीकी विश्विद्यालय: ग्रामीण उद्यमिता के रूप में मिली मान्यता

SHARE
https://abhayindia.com/ बीकानेर की कला, संस्‍कृति, समाज, राजनीति, इतिहास, प्रशासन, धोरे, ऊंट, पर्यटन, तकनीकी विकास और आमजन के आवाज की सशक्‍त ऑनलाइन पहल। Contact us: abhayindia07@gmail.com : 9829217604