बीकानेर : पीबीएम अस्पताल में बनेगा 90 लाख की लागत से ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट : मेहता

Namit Mehta
Namit Mehta

बीकानेर abhayindia.com जिला कलक्टर नमित मेहता ने कहा की सरदार पटेल मेडिकल कॉलेज से संबद्ध पीबीएम अस्पताल में जल्द ही 90 लाख रुपए की लागत से ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट लगाया जाएगा। इस प्लांट के लग जाने के बाद अस्पताल ऑक्सीजन के क्षेत्र में आत्मनिर्भर बन जाएगा। उन्होंने बताया कि फिर ऑक्सीजन बाहर से खरीदने की भी आवश्यकता नहीं रहेगी। यह बात उन्होंने शुक्रवार को कलेक्ट्रेट सभागार में कोविड-19 की समीक्षा बैठक के दौरान कही।

मेहता ने कहा कि वर्तमान में कोरोना के समय जिले में ऑक्सीजन की थोड़ी परेशानी रही, जिसका का तत्काल समाधान कर दिया गया। आने वाले वर्षों में अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी ना आए इसे ध्यान में रखते हुए प्लांट लगाने का निर्णय लिया गया है। वर्तमान में जिले में ऑक्सीजन के दो प्लांट हैं तथा सेरूणा में लगे प्लांट से ऑक्सीजन की आपूर्ति पीबीएम अस्पताल में  हो रही है।

उन्‍होंने कहा कि दोनों ही प्लांट से अस्पताल की मांग के अनुसार ऑक्सीजन की आपूर्ति सुनिश्चित की  जाए। अगर इन प्लांट के संचालकों द्वारा ऑक्सीजन की आपूर्ति करने में किसी तरह की बाधा या परेशानी की जाती है तो इनके विरूद्ध एपिडेमिक एक्ट में सख्त कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। अगर चिकित्सा एवं जिला प्रशासन को दोनों ही प्लांट के संचालकों द्वारा सहयोग नहीं किया गया तो वर्तमान में कोविड संकट को देखते हुए प्लांट को अधिग्रहण करने की कार्रवाई की जा सकती है।

जिला कलक्टर ने कहा कि पीबीएम अस्पताल में ऑक्सीजन का 2 दिन का स्टॉक आवश्यक रूप से रहना चाहिए। साथ ही जिले में जितने भी कोविड-19 केयर सेंटर चिकित्सा स्वास्थ्य विभाग की ओर से संचालित हो रहे हैं, उनमें दस-दस ऑक्सीजन सिलेंडर रखे जाए ताकि जरूरत पड़ने पर गंभीर रोगियों को तत्काल ऑक्सीजन की उपलब्धता सुनिश्चित हो सके।

उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि ऑक्सीजन के छोटे सिलेंडर सभी चिकित्सा स्वास्थ्य सेवा केन्द्रों, जिला मुख्यालय पर स्थित अस्पतालों में और मुख्य चिकित्सा स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय में भी रहे ताकि अगर होम कर्वान्टाइन किए हुए व्यक्ति का स्वास्थ्य खराब हो जाए और ऑक्सीजन की जरूरत पड़े तो उसे एक बार तत्काल छोटा ऑक्सीजन सिलेंडर उपलब्ध करवाया जा सके। उन्होंने कहा कि कोरोना के चलते किसी भी व्यक्ति के स्वास्थ्य के साथ किसी भी स्थिति में इलाज की कमी नहीं आने दी जाएगी।

SHARE