एसीबी ने एएसआई को रिश्‍वत लेते रंंगे हाथों किया गिरफ्तार

बीकानेर Abhayindia.com भ्रष्‍टाचार निरोधक ब्‍यूरो (एसीबी) ने एक मुकदमे से नाम हटाने की एवज में पांच हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए सहायक उपनिरीक्षक (एएसआई) को गिरफ्तार कर लिया है। यह मामला श्रीगंगानगर के श्रीकरणपुर थाने से जुड़ा है।

एसीबी उप अधीक्षक वेदप्रकाश लखोटिया ने बताया कि परिवादी के खिलाफ दोहरे पट्टे बनाने के आरोप में मुकदमा दर्ज है। मामले की जांच एएसआई महावीर प्रसाद के पास है। एएसआई महावीर प्रसाद ने मुकदमे में एफआर लगाने के बदले पचास हजार रूपए की रिश्वत की मांग की थी। परिवादी ने इसकी शिकायत एसीबी को की। इस पर एसीबी एसपी देवेंद्र विश्नोई के निर्देशन पर कार्रवाई शुरू की गई। सत्यापन के दौरान आरोपी ने पंद्रह हजार रुपए में काम करना तय किया। दस हजार रुपए उसी समय ले लिए। बाकी पांच हजार रुपए की रिश्वत राशि आज श्रीकरणपुर थाने में ली। आरोपी एएसआई ने जैसे ही पांच हजार की रिश्वत ली, एसीबी के इंस्पेक्टर विजेंद्र सीला मय टीम ने उसे रंगे हाथों पकड़ लिया।