…तो खराब मूड सही कर देगा ‘चुनावी बजट’

703
Rajasthan Chied Minister Vasundhara Raje File photo
Rajasthan Chied Minister Vasundhara Raje File photo

जयपुर (अभय इंडिया न्यूज)। प्रदेश की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार सोमवार को विधानसभा में बजट पेश करेगी। इसमें इस बार नौ माह बाद होने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारी देखी जा सकती है।
प्रदेश में हाल में सरकार को दो लोकसभा और एक विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव में हार का मुंह देखना पड़ा है। इससे सरकार सचेत है। इसके बाद मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे उपचुनाव परिणामों को वेकअप कॉल के रूप में देख रही हैं। ऐसे में यह माना जा रहा है कि इस बार बजट में आमजन को ध्यान में रखते हुए बड़ी घोषणाएं की जा सकती हैं। प्रदेश में चल रही भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना का लाभ तीन लाख से बढ़ाकर पांच लाख रुपए किया जा सकता है। पिछले लंबे समय से कांग्रेस प्रदेश में किसानों की कर्ज माफी की मांग उठा रही है। इसे देखते हुए उम्मीद जताई जा रही है कि आगामी चुनाव में किसानों को रिझाने के लिए बजट में उन्हें रियायतें दी जा सकती है। खासतौर से किसानों को फसल के लिए मिल रहे अनुदान को बढ़ाने की घोषणा हो सकती है। व्यापारियों के लिए एमनेस्टी स्कीम लाई जा सकती है। वैट में राहत भी मिलने की उम्मीद है।
सूत्रों की मानें तो कर्मचारी वर्ग भी सरकार से नाराज ही चल रहा है। ऐसे में फाइलों में दबी उनके हित की योजनाएं अब बाहर आ सकती हैं। टाइम बाउंड प्रमोशन सहित महिला कर्मचारियों के लिए चाइल्ड केयर लीव की मांग पूरी हो सकती है। बजट में युवाओं को खास तवज्जों मिलने के भी संकेत आ रहे हैं। उनके लिए स्वरोजगार से जुड़ी योजनाएं और सरकारी नौकरियों का पिटारा खोलने जैसी घोषणाएं संभव है। राज्य प्रशासनिक सेवा की परीक्षा भी प्रत्येक साल कराने की घोषणा भी हो सकती है। सामान्य वर्ग की नाराजगी दूर करने के लिए सरकारी नौकरियों में आयुसीमा की छूट जैसे प्रावधान मौजूदा वित्तीय वर्ष में लागू किए जा सकते हैं। इसी तरह आर्थिक रूप से पिछड़े वर्ग के लिए भी राहत पैकेज सरकारी नौकरियों के लिए जारी किया जा सकता है।