बीकानेर में तीसरे आचार्य तुलसी अन्तरराष्ट्रीय शॉर्ट फिल्म फेस्टिवल की तैयारियां

Breaking News
Breaking News

बीकानेर (अभय इंडिया न्यूज)। आचार्य तुलसी की पुण्य स्मृति में पिछले दो वर्षों की भांति इस बार भी आचार्य तुलसी शांति प्रतिष्ठान की ओर से 1 एवं 2 सितम्बर को बीकानेर में ‘आचार्य तुलसी अन्तरराष्ट्रीय शॉर्ट फिल्म फेस्टिवल’ के तीसरे संस्करण के आयोजन की तैयारियां शुरू हो गई है। नैतिकता के शक्तिपीठ स्थित आशीर्वाद ऑडीटोरियम में आयोजित होने वाले इस दो दिवसीय शॉर्ट (लघु) फिल्म महोत्सव में हर वर्ष भारत एवं दुनिया के अनेक देशों में बनी बेहतरीन फिल्मों का प्रदर्शन किया जाता है।

नैतिकता, पर्यावरण, विश्व शांति, सद्भावना, अहिंसा, सामाजिक रूढिय़ां, ध्यान, नशा मुक्ति एवं आचार्य तुलसी के जीवन पर बनी अधिकतम 20 मिनट तक की फिल्मों को फेस्टिवल में भाग लेने के लिए आमंत्रित किया गया है। फिल्म निदेशक इन विषयों पर बनी अपनी फिल्में फेस्टिवल में भाग लेने के लिए 15 अगस्त 2018 तक भेज सकते हैं।

फेस्टिवल निदेशक जैन लूणकरण छाजेड़ ने बताया कि फेस्टिवल में शॉर्ट फिल्मों के अलावा वृत्तचित्र एवं एनिमेशन तकनीक में बनी फिल्में भी आमंत्रित की गई है। छह से ज्यादा श्रेणियों में प्रथम एवं द्वितीय पुरस्कार के रूप में क्रमश: 11000 रुपए एवं 5000 रुपए पुरस्कार के अलावा प्रमाण पत्र एवं ट्रॉफी भी प्रदान की जाएगी। फेस्टिवल में भाग लेने के इच्छुक फिल्ममेकर अपनी फिल्में फिल्मफ्रीवे वेबसाइट के माध्यम से ऑनलाइन जमा करवा सकते हैं। प्रविष्टि के लिए व्यक्तिगत फीस 100 रुपए एवं संस्थागत 500 रुपए रखी गई है।

फेस्टिवल संयोजक गोपाल सिंह ने बताया कि फेस्टिवल में भाग लेने के लिए हर वर्ष भारत के विभिन्न राज्यों के अलावा लंदन, अमेरिका, फ्रांस, ईरान, बेल्जियम तथा स्पेन इत्यादि देशों के फिल्मकार अपनी फिल्में भेजते हैं। महामंत्री जतन दुग्गड़ ने बताया कि शांति प्रतिष्ठान रचनात्मक गतिविधियों के माध्यम से समाज में सकारात्मक मूल्यों की स्थापना के लिए प्रतिबद्ध है। इसी क्रम में यह फिल्म फेस्टिवल बीकानेर के लोगों के लिए दुनिया भर में फिल्मों के माध्यम से सामाजिक मूल्यों को बढ़ावा देने के प्रयोगों को देखने का अवसर है। इस बार संस्था ने आचार्य तुलसी के जीवन मूल्यों पर लघु फिल्म बनाने के लिए बीकानेर और बीकानेर से बाहर के फिल्मकारों को आमंत्रित किया है।

फेस्टिवल के संरक्षक टी.एम. लालाणी ने बताया कि फेस्टिवल के तीसरे संस्करण में इस बार बीकानेर के फिल्मकारों को प्रोत्साहन देने के लिए विशेष श्रेणी के पुरस्कार भी दिए जाएंगे।