बजट : युवाओं, पुलिस और पत्रकारों को ये मिली सौगात

1378

जयपुर (अभय इंडिया न्यूज)। प्रदेश की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने सोमवार को 2018-19 का बजट पेश करते हुए युवाओं के लिए नौकरियों के अलावा अन्य सुविधाओं का पिटारा खोला है। वहीं पुलिस और पत्रकारों के लिए भी कुछ सुविधाओं की घोषणाएं की है।
मुख्यमंत्री वसुंधरा ने कहा है कि हमने सशक्त राजस्थान बनाने का संकल्प लिया था। इसके लिए निवेश, बेरोजगारी, कौशल विकास पर विशेष ध्यान रखा है। उन्होंने बाड़मेर रिफाइनरी का जिक्र करते हुए कहा कि यह प्रॉजेक्ट राजस्थान की सूरत बदलेगा। 1 लाख रोजगार के नए अवसर मिलेंगे। नए एमओयू से 40 हजार करोड़ रुपए की बचत हुई।
उन्होंने कहा कि एक हजार आठ सौ 32 स्कूलों को क्रमोन्नत किया जाएगा। 77,100 खाली पड़े पदों पर भर्ती की जाएगी। राज्य के 18 उपखंडों पर नए राजकीय कॉलेज खोला जाएगा। एक हजार नर्सिंग ट्रेनिंग टीचर की भर्ती की जाएगी। दो हजार पटवारियों की भर्ती होगी। अब युवाओं को सस्ता कर्ज मिलेगा। इसके पहले कर्ज पर ब्याज सब्सिडी को 5 फीसदी से बढ़ाकर 6 फीसदी कर दिया गया है। पत्रकारों को 25 लाख रुपए तक का लोन को ब्याज मुक्त दिया जाएगा।
सुंदर सिंह भंडारी स्वरोजगार योजना की घोषणा जिसमें 50 हजार रुपए का ऋण दिया जाएगा। राजस्थान में अंबेडकर भवन बनाए जाएंगें। महिला कर्मचारियों को दो साल की चाइल्ड केयर लीव मिलेगी। एरियर की राशि का भुगतान शुरू किया जाएगा।
पिछड़ा वर्ग के लोगों के लिए स्वरोजगार के दिए ऋण माफ किए गए। एससी व एसटी के परिवारों के लिए भैंरोसिंह शेखावत के नाम से योजना की शुरुआत की जाएगी। पांच जिलों में जनजातीय, गैर जनजातीय किसानों को मक्का के फ्री बीज दिए जाएंगें। नए आंगनबाड़ी केन्द्र खोले जाएंगें जिससे 30 हजार बच्चों को फायदा होगा। दस नए आवासीय स्कूल बनाए जाएंगे।
दृ सीएम ने दिव्यांगों के कल्याण के लिए अलग से दिव्यांग कोष की स्थापना करने की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि इस कोष के लिए एक करोड़ रुपए का प्रावधान किया जाएगा। जैसलेमर और बाड़मेर को गुजरात के प्रमुख बंदरगाहों से जोडऩे के लिए नई रेल लाइन बिछाई जाएगी।
पुलिसकर्मियों का मैस भत्ता बढाया। नई तहसील खोली जाएंगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि राजस्थान में 5 हजार 518 स्वास्थ्य कर्मियों की भर्ती होगी। बीकानेर में मेडिकल कॉलेज में नए कैथ लैब की स्थापना होगी। अजमेर मेडिकल कॉलेज में भी नए कैथ लैब की स्थापना होगी। 27 जिला अस्पतालों में आधुनिक फायर स्टेशन बनाए जाएंगे। शाहपुरा के हॉस्पिटल को अपग्रेड किया जाएगा। 28 नए पीएसची खोले जाएंगी।