अभय कमांड सेंटर : बीकानेर में ‘तीसरी आंख’ अब लाइव मोड पर…

616
abhay cammand center file photo
abhay cammand center file photo

बीकानेर (अभय इंडिया न्यूज)। अभय कमांड सेंटर के तहत बीकानेर में सीसीटीवी कैमरे लगाने की प्रक्रिया अब तेजी से आगे बढ़ रही है। ‘तीसरी आंख’ कहे जाने वाले इन कैमरों के लगने से अपराधों पर अंकुश लग सकेगा। जिला कलक्टर डॉ. एन. के. गुप्ता ने बुधवार को अभय कमांड सेंटर के फील्ड कार्य की प्रगति समीक्षा की। उन्होंने कहा कि ऑप्टिकल फाइबर केबल बिछाने, पोल लगाने के लिए प्लेटफॉर्म तैयार करने सहित सम्पूर्ण कार्य शीघ्र पूरा किया। प्रति सप्ताह इसकी समीक्षा की जाएगी।

सूचना एवं प्रौद्योगिकी विभाग के उपनिदेशक सत्येन्द्र सिंह राठौड़ ने बताया कि अब तक 85 किलोमीटर ऑप्टिकल फइबर केबल बिछा दी गई है। इसी प्रकार पोल के लिए 211 प्लेटफॉर्म तैयार कर लिए गए हैं। इनमें 202 पोल लगा दिए गए हैं तथा 157 पर विद्युत कनेक्शन जारी कर दिए गए हैं। उन्होंने बताया कि 73 पोल पर फाइबर कनेक्टिवटी कर दी गई है तथा 261 कैमरे इंस्टॉल कर दिए गए हैं। इनमें से 176 कैमरे लाइव मोड पर हैं। जिला कलक्टर ने कहा कि 23 मई को दोबारा प्रगति समीक्षा की जाएगी। कार्यों का साप्ताहिक लक्ष्य निर्धारित करते हुए पूर्ण करने के निर्देश दिए। इसके लिए श्रमिकों तथा शिफ्टिंग संख्या बढ़ाने को कहा।

महिला बंदियों के लिए विशेष अभियान

बीकानेर। जेल में निरूद्ध महिला बंदियों एवं उनके साथ निवासरत बच्चों की सहायता व पीड़ा जानने के लिए गुरूवार से 26 मई तक 10 दिन का विशेष अभियान चलाया जाएगा। इस सम्बंध में बुधवार को एडीआर भवन सभागार में कार्यशाला का आयोजन किया गया। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के पूर्णकालिक सचिव (अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट) राहुल चौेधरी ने बताया कि इस अभियान का उद्देश्य जेल में निरूद्ध महिला बंदियों अथवा सजायाफ्ता महिला बंदियों एवं उनके साथ निवासरत बच्चों के लिए विधिक सेवाओं व संबंधित विभागों की योजनाओं की पहुंच बढ़ाना है। कार्यशाला में राजस्थान राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण की ओर से जिला स्तर पर गठित टीम ने भाग लिया। इस टीम में मनोचिकित्सक, महिला एवं प्रसूति रोग विशेषज्ञ, सहायक निदेशक महिला एवं बाल विकास विभाग, अधीक्षक, केन्द्रीय कारागृह, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, अति. जिला शिक्षा अधिकारी, एनजीओ प्रतिनिधि व पैनल अधिवक्ता शामिल हैं।