Thursday, July 18, 2024
Hometrendingराजकीय सैटेलाइट अस्पताल में कानों के बहरेपन व सुनने की क्षमता की...

राजकीय सैटेलाइट अस्पताल में कानों के बहरेपन व सुनने की क्षमता की जांच शुरू

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad

बीकानेर Abhayindia.com गंगाशहर के राजकीय सैटेलाइट अस्पताल में कानों के बहरेपन व सुनने की क्षमता की जांच की सुविधा उपलब्ध हो गई है। कानों की जांच के लिए ALPS AD 2100 मशीन आज गंगाशहर नागरिक परिषद् द्वारा चम्पालाल चौपड़ा के कर कमलों से अस्पताल अधीक्षक डॉ. मुकेश बाल्मिकी एवं ई. एन. टी. डॉ. अभिषेक व्यास को भेंट की गई। डॉ. बाल्मिकी ने परिषद् का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि अस्पताल में चिकित्सा सेवाओं के विस्तार व रोगियों को बेहतर सुविधाएं उपलब्ध करवाने में परिषद् का जागरूकतापूर्वक महत्वपूर्ण योगदान रहता है।

डॉ. व्यास ने बताया कि इस मशीन से रोगियों की बहरेपन व कान के सुनने की क्षमता की जांच होगी। व्यास ने बताया कि इससे रोगी को सुनने की मशीन का सटीक निर्धारण हो सकेगा। परिषद् के गंगाशहर इकाई के चेयरमेन जतनलाल दूगड़ ने बताया कि रोगियों को इस प्रकार की जांच के लिए पी.बी.एम. अस्पताल जाना पड़ता था। पी.बी.एम. व जिला अस्पताल के बाद अब गंगाशहर अस्पताल में भी ओडियोमीटरी जांच की व्यवस्था उपलब्ध हो जाने से गंगाशहर व आस पास के क्षेत्र के लोगों को बहुत सुविधा होगी।

सम्पतलाल दूगड़ ने बताया कि इस जांच के लिए निर्धारित कक्ष को साउण्ड प्रूफ बनाया गया है। दूगड़ ने प्रिसिंपल मेडिकल कॉलेज डॉ. गुंजन सोनी का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि गंगाशहर अस्पताल में कान, नाक व गला विभाग की सेवाओं की उपलब्धता से रोगियों को बहुत लाभ मिला है।

इस अवसर पर डॉ. विजय कच्छावा, डॉ. खुशबू जोशी, डॉ. चन्द्रप्रभा तिवारी, डॉ. रेणु बजाज, नर्सिंग अधीक्षक मोहनलाल मोदी आदि चिकित्सक, नर्सिंगकर्मी व अस्पताल के कर्मचारियों सहित गंगाशहर नागरिक परिषद् के महेन्द्र चौपड़ा, बच्छराज रांका, मनसुख दूगड़ सप्लायर कम्पनी के निषीथ पाण्डे आदि गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad
Ad
- Advertisment -

Most Popular