पुष्करणा सावा : परकोटा बनेगा बारातघर, दुल्हों के लिए उपहारों की लंबी फेहरिस्त

बीकानेर (अभय इंडिया न्यूज)। पुष्करणा सावे के मद्देनजर शहरभर में रौनक परवान पर है। सावे के दिन (21 फरवरी) को बड़ी संख्या में शादियां होने के कारण समूचा परकोटा बारातघर में तब्दील हो जाएगा। हर चौक, गली में मांगलिक गीतों की गूंज है, साथ ही शादी से पहले की परंपराओं के निर्वहन के चलते बाजारों में भी रंगत नजर आने लगी है। रविवार को शहर के विभिन्न क्षेत्रों में बड़ी संख्या में पुष्करणा समाज के बटुकों का यज्ञोपवीत संस्कार किया गया। वहीं, मंगलवार को बाट-बड़ी की रीत निभाई गई।

इधर, मौहता चौक में सावे के दिन 21 फरवरी को 4.30 बजे विष्णु स्वरूप जो दुल्हा पहले नंबर पर आएगा उसको बीकाजी ग्रुप की तरफ से 11000 हजार रुपये का इनाम दिया जाएगा। दूसरे नंबर पर आने वाले को 7100 सात हजार एक सौ रुपये का इनाम दिया जाएगा। तीसरे नंबर पर आने वाले दुल्हे को 5100 पांच हजार एक सौ रुपये का इनाम दिया जाएगा। मारवाड़ जनसेवा समिति के अध्यक्ष रमेश व्यास के द्वारा तीनों दुल्हों को पांच-पांच हजार रुपये का चैक मंच से प्रदान किया जाएगा।

इस अवसर पर पूरे मौहता चौक को लाइटिंग से सजाया गया है एवं भव्य आयोजन किया जाएगा। इस आयोजन मे जो भी दुल्हे पहले नंबर दूसरे नंबर व तीसरे नंबर पर आएंगे। उनका फैसला निर्णायक मंडल कमेटी के सदस्य तय करेंगे। सदस्यों मे जुगल किशोर ओझा, राजेश चुरा, हीरालाल हर्ष, शंकरलाल हर्ष, घनश्याम लखाणी, ओमकारनाथ हर्ष उपस्थित रहेंगे।

रमक-झमक संस्था की ओर से दूल्हों और आदर्श बारातों का होगा सम्मान किया जाएगा। सावे के दिन विवाह बंधन में बंधने वाले पुष्करणा समाज के उन विष्णु रूपी दूल्हों को श्रीनाथजी यात्रा का पैकेज दिया जाएगा जो सबसे पहले वधु पक्ष के यहां बारात लेकर जाएंगे। संस्था के प्रहलाद ओझा भैरू ने बताया कि 21 फरवरी को शाम 4.30 बजे बाद संस्था कार्यालय के आगे से निकलने वाले पहले दू्ल्हे को पुरस्कार दिया जाएगा। वहीं संस्था की ओर से विष्णु रूपी और गोधूलि लग्न में विवाह करके जो वर-वधु संस्था के आगे से निकलेंगे उन वर-वधुओं को आदर्श दंपति सम्मान और डिनर का पुरस्कार दिया जाएगा। इसके साथ ही सादगी के साथ निकलने वाली बारात जिसमें शंखनाद होगा और साफा पाग पहने सबसे अधिक बाराती होंगे उस बारात को रमक-झमक आदर्श बारात सम्मान से सम्मानित किया जाएगा।

पहले चुनाव लड़ा, पर हार गया, फिर फर्जी पुलिस अफसर बना, अब पकड़ा गया