बीकानेर : 20 दिन में पूरा करें कोविड टीकाकरण का नवीन चरण -जिला कलक्टर मेहता

जिला कलक्टर नमित मेहता

बीकानेर abhayindia.com जिला कलक्टर नमित मेहता ने जिले के सभी उपखण्ड अधिकारियों, तहसीलदारों, विकास अधिकारियों एवं ब्लॉक सीएमओ को निर्देश दिए हैं कि जिले में कोविड-19 वैक्सीनेशन के नवीन चरण में लगभग 2 लाख 80 हजार बुजुर्गों (1.1.2022 को 60 वर्ष या अधिक) एवं 45 से 59 वर्ष तक की आयु के अन्य गंभीर बीमारियों से ग्रस्त लगभग 20 हजार व्यक्तियों के कोविड वैक्सीेनेशन के प्रयास किए जाएं।

प्रथम डोज के लिए उन्होंने 20 दिन की समय सीमा तय कर दी है जिसमे जनप्रतिनिधियों के सहयोग व पूरी सरकारी मशीनरी के युक्तिसंगत उपयोग द्वारा सफलता हासिल करने का गूढ़ मंत्र भी मेहता ने दिया। इसके लिए कोविड वैक्सीनेशन सेंटर्स पर रजिस्टे्रशन, वैरिफिकेशन, वैक्सीनेशन एवं कोल्ड चैन सहित अन्य सभी व्यवस्थाएं सुनिश्चित किए जाने के साथ ही ग्राम पंचायतवार वार्ड वार माइक्रो लेवल प्लानिंग करने के निर्देश दिए। उन्होंने स्पष्ट किया कि किसी भी हाल में किसी पात्र को बिना वैक्सीनेशन लौटाया नहीं जाएगा।

जिला कलक्टे्रट में सोमवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से सम्बोधित करते हुए मेहता ने कहा कि कोविड के मामले हांलाकि कम है, परन्तु अन्य राज्यों में अब बढते हुए दिखाई दे रहे हैं। ऐसे में कोविड सम्बन्धी पूर्व दिशा निर्देशों की पालना करते हुए पूरी सावधानी बरती जानी चाहिए। इसलिए अब कोविड-19 टीकाकरण अत्यधिक जरूरी है। पात्र व्यक्तियों का कोविन-2 सॉफटवेयर पोर्टल व आरोग्यसेतु एप से रजिस्टे्रशन प्रारम्भ हो चुका है। अब कोविड वैक्सीनेशन की सम्पूर्ण प्रक्रिया का सरलीकरण कर दिया गया है।

मेहता ने बताया कि निर्धारित कोविड वैक्सीनेशन सेंटर्स पर एक बार वैक्सीनेशन होने के बाद दूसरी डोज का मैसेज पंजीकृत मोबाइल पर आ जाएगा। तृतीय चरण के साथ ही कोविड वैक्सीनेशन सेंटर्स पर पिछले चरणों में हुए हैल्थ वर्कर्स एवं फ्रंटलाइनर्स को दूसरी डोज, पूर्व चरणों में वैक्सीनेशन से शेष इन वर्गों के लोगों को पहली डोज के वैक्सीनेशन समानान्तर चलेंगे।

जिला कलक्टर ने बताया कि कोई भी व्यक्ति जिसकी आयु 1 जनवरी 2022 को 60 वर्ष या अधिक हो उसे टीकाकरण के लिए अपना आधार, वोटर आइडी कार्ड, पासपोर्ट जैसे दस्तावेज साथ लाने होंगे। इसी प्रकार 45 से अधिक एवं 59 वर्ष तक के अन्य बीमारियों से ग्रस्त व्यक्ति को टीकाकरण भी किया जाए।

मेहता ने सभी एसडीओ, बीडीओ एवं बीसीएमएचओ को आपसी समन्वय से कोविड वैक्सीनेशन सेंटर पर वैरिफिकेशन के लिए पर्याप्त संख्या में प्रशिक्षित कार्मिक लगाने के निर्देश दिए। इस कार्य में बीएलओ, पटवारी, ग्राम सेवक, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, जन प्रतिनिधियों एवं अन्य राजकीय कार्मिकों या नजदीकी कार्यालय का सहयोग लेने को कहा। वीडियो कांफे्रंसिंग में अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन) बलदेवराम धोजक, मुख्यकार्यकारी अधिकारी जिला परिषद ओम प्रकाश, प्रशिक्षु आईएएस कनिष्क कटारिया, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. सुकुमार कश्यप, आरसीएचओ डाॅ. राजेश गुप्ता, डाॅ.नवल गुप्ता, यूएनडीपी के योगेश शर्मा, सूचना विज्ञान अधिकारी संकल्प शर्मा, उपनिदेशक आईटी सत्येन्द्र सिंह राठौड़ आदि उपस्थित थे, जबकि वीसी के माध्यम से सभी उपखण्ड अधिकारी व ब्लाॅक अधिकारी अपने मुख्यालय से जुडे़।

माइक्रो प्लानिंग बनाकर करें ग्राम पंचायतों की मैपिंग : जिला कलक्टर ने निर्देश दिए कि हर कोविड वैक्सीनेशन सेंटर के लिए माइक्रो प्लान बनाया जाए। आस-पास की ग्राम पंचायतों, ढाणियों की मैपिंग की जाए, जिसके आधार पर दिनों का निर्धारण किया जा सकता है। सरपंच एवं वार्ड पंच के साथ बैठक कर उन्हें सेंसेटाइज किया जाए। बीएलओ इस कार्य में महत्वपूर्ण कड़ी है। उसे उसके क्षेत्र में 60 या अधिक उम्र के लोगों को वैक्सीनेशन हेतु जागरूक करने की जिम्मेदारी सौंपी जाए।

SHARE