मणिधारी दादा गुरुदेव जयंती पर बीकमपुर मेला व ध्वजारोहण, दादाबाड़ी में पूजा व प्रसाद

बीकानेर Abhayindia.com मणिधारी दादा गुरुदेव की जयंती पर रविवार को दादा गुरुदेव के जन्म स्थान विक्रमपुर (बीकमपुर) में मेला व ध्वजारोहण तथा बीकानेर के जिनालयों में संगीतमय पूजा, गुरु इकतीसा पाठ, गोगागेट घूमचक्कर के पास स्थित मरोठी सेठिया शाह पंचायती ट्रस्ट की दादाबाड़ी में सुश्रावक मंगलचंद दुग्गड़ परिवार की ओर से स्थापित दादा गुरुदेव के मंदिर में भक्ति संगीत के साथ पूजा की गई।

गंगाशहर रोड की मरोठी सेठिया शाह पंचायती ट्रस्ट की दादाबाड़ी में जैन मंडल की ओर से विभिन्न राग व तर्जों में दादा गुरुदेव के भक्ति गीत ’’कोई नहीं दादा तेरे सिवाय, तू है पालनहारा, तू ही तारणहार’’, ’’दादा गुरुदेव तुमको लाखों प्रणाम, करोड़ों प्रणाम’’, ’’गुरुवर तेरे चरणों की धूल ही मिल जाएं, सच कहता हूं मेरी तकदीर संवर जाएं’’ आदि की प्रस्तुतियां दी।

दादा गुरुदेव की दोहों और भक्ति गीतों के साथ नव्हाण पूजा, केशर चंदन, पुष्प, धूप-दीप, अक्षत, नैवेद्य, फल, वस्त्र, इत्र, ध्वज व अर्घ्य पूजा की गई। बड़ी संख्या में श्रावक-श्राविकाओं ने दादा बाड़ी में पूजा, भक्ति व प्रसाद में भागीदारी निभाई। पूजा व प्रसाद का लाभ सोहन लाल, इन्द्रचंद, आशीष, राहुलख् तन्मय दुगड़ परिवार ने लिया।