बीकानेर में करोड़ों का यह ‘अवैध कारोबार’ 4 दिन के लिए रहेगा बंद

मुकेश पूनिया/बीकानेर (अभय इंडिया न्यूज) दीपावली के मौके पर जहां बाजार में कारोबारी बूम है, वहीं हर रोज होने वाला करोड़ो का पर्ची सट्टा कारोबार चार दिन के लिये बंद है। सट्टा बाजार से जुड़े सूत्रों के अनुसार मुंबई और नागपुर से संचालित होने वाले पर्ची सट्टा कारोबार देशभर में दीपावली की छुट्टियों को देखते हुए चार दिन के लिये बंद है। अब यह कारोबार गुरूवार आठ नंवबर से ही शुरू होगा।

जानकारी में रहे कि सालभर चलने वाले पर्ची सट्टा कारोबार की जड़ें बीकानेर में शहर से लेकर कस्बे तक फैली है। सट्टा कारोबार के जानकारों की मानें तो जिले में प्रतिदिन करीब एक करोड़ रुपये का कारोबार होता है। शहर में होने वाले सट्टे का सरगना बड़ा बाजार का क्रिकेट बुकी है, इसके तार गंगाशहर में बड़े स्तर के सट्टा कारोबारी से जुड़े हैं। ऐसा नहीं है कि सरगना और उसकी देखरेख में शहर में विभिन्न स्थानों पर चल रहे इस अवैध कारोबार में लिप्त लोगों की जानकारी पुलिस को नहीं है, लेकिन पुलिस प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष लाभ के कारण कारोबार को संचालित करने वालों पर हाथ नहीं डालती।

आपको बता दें कि पुलिस सट्टा खेलने वाले छोटेमोटे सटोरियों को गिरफ्तार करती है और कागजी कोरम पूरा कर अपना पल्ला झाड़ लेती है। वैसे तो शहर में कई स्थानों पर सट्टे का कारोबार होता है। लोग बाकायदा कुर्सीमेज डालकर बैठते हैं और सट्टा पर्ची लिखते देखे जा सकते है।

सट्टेबाजी में फंसे 70 फीसदी युवा

जिले में सट्टा कारोबार की जड़ें काफी गहरी हैं। शहर से लेकर देहात इलाकों के छोटेछोटे कस्बों और नगरों में भी सट्टा कारोबार धड़ल्ले से होता है। सट्टेबाजों में 70 फीसदी युवा पीढ़ी जुड़ी हुई है, जो बर्बादी के कगार पर पहुंच चुकी है। यह कारोबार झगड़ाफसाद से लेकर बड़े अपराधों को जन्म दे रहा है। अब तक यह शहरों में ही चल रहा था, लेकिन अब यह ग्रामीण इलाकों में अपनी जड़े जमा चुका है।

चुनावी सट्टा बाजार में पायलट पर भारी अशोक गहलोत, ताजा अपडेट…

सीएम वसुंधरा का चौंकाने वाला बयान, कहा- …तो मेरी अर्थी जाएगी