विश्व रिकॉर्ड के साथ कोचिंग सिटी बन गई योग सिटी

420
yog in kota
yog in kota

कोटा (अभय इंडिया न्यूज)। अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर कोचिंग सिटी के नाम से मशहूर कोटा सिटी योग सिटी बन गई। गुरुवार को जहां देश-दुनिया में योग किया गया वहीं कोटा में योग का विश्व रिकॉर्ड बनाया गया। योग गुरु बाबा रामदेव और मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के साथ दो लाख से अधिक आम और खास लोगों ने योग किया। इस अवसर पर सभी ने योग के विभिन्न आसन किए। योग के बाद गिनीज बुक ऑफ वल्र्ड रिकॉर्ड की टीम ने विश्व रिकॉर्ड बनने का औपचारिक रूप से ऐलान किया।

आरएसी ग्राउंड में हुए राज्य स्तरीय समारोह में सुबह से ही लोगों के पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया। कार्यक्रम में सम्मिलित होने के लिए मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे बुधवार शाम को ही कोटा पहुंच गई थीं। मैदान में योग के लिए बच्चों से लेकर बुजुर्ग भी पहुंचे। राज्य सरकार और पतंजलि योगपीठ के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित इस योग कार्यक्रम के दौरान सूक्ष्म व्यायाम, योगासन, प्राणायाम व एडवांस योग भी करवाया गया। बाबा ने युवाओं व विद्यार्थियों के लिए विशेष प्राणायाम और यौगिक क्रियाएं भी करवाईं।

इस मौके पर योग गुरु बाबा रामदेव ने कहा कि हम सभी को योग को जीवन का हिस्सा बनाना चाहिए। बाबा ने कोचिंग से जुड़े विद्यार्थियों से कहा कि योग से याददाश्त और एकाग्रता बढ़ती है। उन्होने कहा कि आज दो लाख लोगों ने एक साथ योग कर यह रिकॉर्ड बनाया है। इससे कोटा अब कोचिंग सिटी ही नहीं योग सिटी के नाम से भी जाना जाएगा। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने कहा कि पढऩे-लिखने वाले बच्चे जब योग करते हैं तो इससे तनाव अपने आप कम हो जाता है। आप सब शाम को वॉक के लिए जाते हैं। हमने तय किया है कि सभी बड़े पार्क में योग के शिविर लगाए जाएं।

इससे पहले गिनीज बुक ऑफ वल्र्ड रिकार्ड के लंदन से आए आब्जर्वर सुबह साढ़े छह बजे आरएसी ग्राउंड पहुंच गए। उन्होंने सुबह साढ़े छह बजे से सात बजे तक योग को रिकॉर्ड किया। इसके बाद उन्होंने वल्र्ड रिकॉर्ड बनने का औपचारिक ऐलान किया।