कपिल क्रीड़ा केन्द्र में लॉन टेनिस प्रतियोगिता का समापन

183

बीकानेर (अभय इंडिया न्यूज)। महाराजा गंगासिंह विश्वविद्यालय, बीकानेर के अन्तर्गत बेसिक पी.जी. महाविद्यालय के तत्वावधान में आयोजित अन्तर महाविद्यालय लॉन टेनिस (महिला एवं पुरुष) प्रतियोगिता का आयोजन स्थानीय कपिल क्रीड़ा केन्द्र मैदान में रखा गया। इस प्रतियोगिता के आयोजन सचिव डॉ. सुरेश पुरोहित ने बताया कि प्रतियोगिता में महिला एवं पुरुष प्रतिभागियों ने व्यक्तिगत ट्रायल में भाग लिया।

प्रतियोगिता का उद्घाटन महाविद्यालय की प्रबन्ध समिति के अध्यक्ष रामजी व्यास एवं बेसिक पी.जी. महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ. शिवराम सिंह झाझडिय़ा ने किया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि रामजी व्यास एवं प्राचार्य डॉ. शिवराम सिंह झाझडिय़ा द्वारा सभी खिलाडिय़ों से परिचय भी प्राप्त किया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में संबोधित करते हुए रामजी व्यास ने बताया कि जिन्दगी में अक्सर खेल के महत्व को हम ध्यान नहीं देते हैं, जबकि खेल में भाग लेने से सबसे पहले हमारे स्वास्थ्य पर उत्तम प्रभाव पड़ता है। टेनिस खेलने से हमारी सांस लेने की योग्यता 2 या 3 गुना तक बढ़ जाती है।

व्यास ने बताया कि स्वस्थ रहने के अलावा, खेल में भाग लेने से हम दोस्ती और विश्वास की सहानुभूतियों को बढ़ा सकते हैं। खेलों में खेल भावना का होना भी जरूरी है। खेलों में हार-जीत से कटुता या अहंकार का भाव उत्पन्न नहीं होना चाहिए और खेलों में जीत के लिए नियमों का उल्लंघन करना भी अनुचित है। स्वस्थ प्रतियोगिता से ही खेलों में खेल भावना को बढ़ाया जा सकता है।

अध्यक्षीय उद्बोधन में प्राचार्य शिवराम सिंह झाझडिय़ा ने बताया कि शारीरिक विकास के लिए एवं लक्ष्य के प्रति निष्ठावान होने के लिए खेलों में रुचि होना जरूरी है। खेलों के अधिकाधिक आयोजन से खिलाडिय़ों में प्रतिस्पद्र्धा का विकास होता है जो कि भविष्य के लिए उन्हें मानसिक मजबूती प्रदान करता है।

कार्यक्रम के समापन समारोह पर उपस्थित विशिष्ट अतिथि राजकुमार किराडू ने छात्रों को संबोधित करते हुए बताया कि खेल में लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए कठोर परिश्रम करने का उत्साह जागृत होता है। उन्होंने बताया कि खेल ही है जो हमें बताता है कि जीवन एक प्रतियोगिता है और खेल मनुष्य को जीवन का पाठ पढ़ाने का कार्य भी करते हैं।

व्यक्तिगत ट्रायल प्रतियोगिता पुरुष वर्ग में प्रथम स्थान पर महाराजा गंगासिंह विश्वविद्यालय, बीकानेर के प्रतिभागी देवल सिंह, द्वितीय स्थान पर राजकीय कॉलेज, श्रीकरणपुर के प्रतिभागी राजबहादुर, तृतीय स्थान पर राजकीय लोहिया कॉलेज चूरू के प्रतिभागी भुवन गोपाल रहे। जबकि महिला वर्ग में चूरू बालिका महाविद्यालय चूरू की प्रतिभागियों ने तीनों स्थानों पर कब्जा किया। प्रथम स्थान पर रितुराज सिंह, द्वितीय स्थान पर नितिका सिहाग व तृतीय स्थान पर यशोदा रही। कार्यक्रम के दौरान विश्वविद्यालय की ओर से नियुक्त पर्यवेक्षक सत्यनारायण सांखला महाविद्यालय के व्याख्याता डॉ. मुकेश ओझा, डॉ. महेश सारण, वासुदेव पंवार, डॉ. सीमा चावला, राजेन्द्र सिंह, मोहित गहलोत, दिनेश आचार्य, अनिल रंगा आदि उपस्थित रहे।