भर्ती परीक्षा में नकल कराने वाले गिरोह का खुलासा, 11 गिरफ्तार

जोधपुर (अभय इंडिया न्यूज)। जोधपुर पुलिस ने बुधवार को कांस्टेबल भर्ती परीक्षा में नकल कराने वाले गिरोह का पर्दाफाश करते हुए कोचिंग सेंटर संचालक भीखाराम सहित 11 जनों को गिरफ्तार किया है। कांस्टेबल भर्ती परीक्षा में चयन कराने के बदले में 50 से 60 लाख रुपए वसूले जा रहे थे।

पुलिस महानिरीक्षक (रेंज) जोधपुर हवासिंह घुमरिया ने बताया कि कांस्टेबल भर्ती परीक्षा में नकल कराने की फिराक में गिरोह को पकड़ा गया है। जालोरी गेट सर्किल के पास स्थित अनुपम कोचिंग सेंटर संचालक भीखाराम को गिरफ्तार किया गया है। इसके अलावा उसके सगे भाई जगदीश जाणी की तलाश की जा रही है। उस पर एसओजी ने पहले से पच्चीस हजार रुपए का इनाम घोषित कर रखा है।

गिरफ्तार होने वालों में भीखाराम सहित अरूण कुमार, सुरेश कुमार, रामदीन विश्नोई, रमेश प्रजापत, रघुवीर सिंह, भंवरलाल बिश्नोई, हरिनारायण विश्नोई, मालाराम विश्नोई व निर्मल पालीवाल के नाम शामिल हैं। आरोपियों में से एक रमेश प्रजापत फोटो स्टूडियो संचालक है। इस पर अभ्यर्थी व फर्जी अभ्यर्थी के फोटो को मिक्स करने का आरोप है। इस मामले को लेकर जोधपुर ग्रामीण पुलिस की तरफ से सरदारपुरा थाने में एफआईआर दर्ज कराई गई है।

पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से बरामदगी भी की है। इसमें परीक्षार्थियों के गारंटी बैच के स्टाम्प, संलग्न ब्लैक चैक, रसीद बुके, रजिस्टर, हिसाब की पर्चियां, ऑनशीट तैयार की गई पर्चियां, मिक्सिंग व एडिट की गई परीक्षार्थियों के फोटो, चार लाख नौ हजार पांच सौ रुपए, कम्प्यूटर, सीपीयू, एन्ड्रॉय मोबाइल आदि बरामद किए हैं।