Thursday, May 23, 2024
Hometrendingबीकानेर : अगले पांच दिनों में यह रहेगा मौसम का मिजाज, किसानों...

बीकानेर : अगले पांच दिनों में यह रहेगा मौसम का मिजाज, किसानों के लिए यह रहेगा असर…

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad

बीकानेर abhayindia.com भारतीय मौसम विज्ञान केन्द्र, नई दिल्ली एवं जयपुर से प्राप्त सूचनाओं के आधार पर बीकानेर जिले में कृषि रिसर्च सेन्टर ने आगामी 5 दिनों (२५ से २९ मार्च तक) में मौसम पूर्वानुमान जारी किया है।

कृषि तकनीकी अधिकारी डॉ.नरेन्द्र पारीक केअनुसार किसान भाइयों को सलाह दी जाती है कि आने वाले दिनों में दिन व रात के तापमान में बढ़ोतरी होने, कम आपेक्षिक आर्द्रता के साथ मध्यम गति की हवाएं चलने और स्वच्छ आकाश छाए रहने के साथ वर्षा नहीं होने की संभावना है। ऐसी स्थिति में जायद मूंग व सब्जियों जैसे भिंडी, तरबूज, खरबूजा, टिंडा, खीरा, ककड़ी आदि की बुवाई का उचित समय है। जायद मूंग के लिए एस.एम.एल. 668, आर.एम.जी. 62 व आर.एम.जी. 492 उपयुक्त किस्मे है। . .

रबी की फसल में पानी मांग…

अधिक तापमान के कारण रबी फसलों की पानी के लिए मांग बढ़ सकती है। अत: म्लानि के लक्षण दिखाई देते ही या फसलों की क्रांतिक अवस्था के अनुसार सिंचाई की व्यवस्था करे। कटी हुई फसलों को सुरक्षित स्थान पर संग्रहित करें। पशुओ को संतुलित आहार के साथ साथ खनिज मिश्रण भी प्रतिदिन खिलाए।

समय पर बोये गई गेहूं की फसल में बुवाई के 105-110 दिन बाद पौधो में पकाव अवस्था पर छठी सिंचाई देवें और देरी से बोई गई गेहूं की फसल में बुवाई के 85-90 दिन बाद पौधो में दुधिया अवस्था पर पांचवी सिंचाई देवें। .

रबी फसलों में फलियों/बाली को झडऩे से बचाने के लिए फसल की कटाई शारीरिक परिपक्वता के आधार पर करें। .

पशुओं के लिए यह…

दुधारू पशुओं को थनैला रोग से बचाने के उपाय करे। पशुओ को खुरपका-मुहपका रोग से बचाव का टीका लगवाएं एवं पेट में कीड़ो की दवाई नियमित देवें।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad
Ad
- Advertisment -

Most Popular