बीकानेर : ठीक होंगे जेल के सीसीटीवी कैमरे, अभय कमांड सेंटर से जुडेंगे

जिला मजिस्ट्रेट मेहता ने किया केन्द्रीय कारागृह का निरीक्षण

बीकानेर abhayindia.com जिला मजिस्ट्रेट व कलक्टर नमित मेहता ने  कहा कि जेल की सुरक्षा के लिए लगाए गए समस्त सीसीटीवी कैमरे दुरूस्त रहें, यदि कुछ कैमरे खराब है तो उन्हें तुरंत प्रभाव से दुरूस्त करवाने की कार्यवाही की जाए। मेहता ने बताया कि इन कैमरों को अभय कमांड सेंटर से जोड़ा जाएगा। मेहता ने सोमवार को बीछवाल स्थित केन्द्रीय कारागृह का निरीक्षण करते हुए ये निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि नगर विकास न्यास द्वारा कैदियों के उत्साहवर्धन, फिजिकल व मानसिक फिटनेस के लिए खेल उपकरण उपलब्ध करवाए जाएंगे। केन्द्रीय कारागृह में कैदियों के लिए बाॅलीबाॅल, चैस और कैरम की व्यवस्था करवाई जाएगी। नगर विकास न्यास द्वारा मुख्य मार्ग से जेल के मुख्य दरवाजे तक सार्वजनिक प्रकाश व्यवस्था दुरूस्त करने की कार्यवाही शीघ्र की जाएगी।

नियम कायदों की करें पालना, जुड़ें समाज की मुख्यधारा से
जिला कलक्टर ने कैदियों से मुलाकात की और उन्हें अपना आचरण और व्यवहार बेहतर करने की सलाह दी। उन्होंने कहा कि भूतकाल में हुई गलतियों से अपने भविष्य की दिशा तय ना करें। अपने वर्तमान पर ध्यान दें, कौशल का विकास करें, अपना व्यवहार सुधारने की तरफ काम करें। कानून के नियमों की पालना करें। नियम कायदों की पालना करने से ही समाज की मुख्यधारा में जुड़ सकेंगे।

जिला कलक्टर ने कैदियों द्वारा हस्तनिर्मित महात्मा गांधी की तस्वीर पर पुष्पाजंलि अर्पित की। इस दौरान जिला मजिस्ट्रेट ने कैदियों द्वारा बनाई गई चित्रकला की सराहना करते हुए कहा कि हर इंसान में एक कलाकार छिपा होता ह,ै कैदी अपने अंदर की प्रतिभा को पहचानें, समय का सदुपयोग करें और कौशल का विकास करें।

फिनायल बेचने के लिए मिलेगी दुकान
जिला कलक्टर ने कहा कि कैदियों द्वारा तैयार किए जा रहे फिनायल को बेचने के लिए जयनारायण व्यास काॅलोनी स्थित ग्रामीण हाट में एक दुकान उपलब्ध करवाई जाएगी, जिससे फिनायल उत्पाद की नियमित बिक्री हो सके।

कैदियों का खाना चखकर ली गुणवत्ता की जानकारी
जिला कलक्टर ने जेल के निरीक्षण के दौरान भोजनशाला का भ्रमण किया और वहां की व्यवस्थाओं की जानकारी ली। इस दौरान उन्होंने रोटी, सब्जी और दाल चखी और भोजन की गुणवत्ता पर संतोष प्रकट किया। मेहता ने गेहूं की सफाई, पीसने आदि की प्रक्रिया की जानकारी ली।  झाडू बनाने, कैदियों की ड्रेस सिलने आदि की प्रक्रिया की जानकारी ली।

पुस्तकालय का हो सुदृढीकरण
जिला कलक्टर ने कहा कि जेल में स्थित पुस्तकालय का सुदृढ़ीकरण करने के लिए अतिरिक्त पुस्तकें क्रय की जाए। वर्तमान में इस पुस्तकालय में 7 हजार से अधिक पुस्तकें उपलब्ध है। उन्हांेने वीसी रूम का भी जायजा लिया और इंतजाम दुरूस्त करने के निर्देश दिए।

कैदियों ने सौंपे ज्ञापन
निरीक्षण के दौरान कैदियों ने अपनी विभिन्न मांगों को लेकर जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंपे। मेहता ने जेल में स्थित अस्पताल का निरीक्षण किया और वहां एक कैदी के पांव में फैक्चर के प्रकरण की रिपोर्ट नियमानुसार बनाकर भेजने के निर्देश दिए। इस दौरान अतिरिक्त जिला कलक्टर (शहर) अरूण प्रकाश शर्मा, जेल अधीक्षक पी एस सिधु उपस्थित रहे।

SHARE