Sunday, March 3, 2024
Hometrendingरोगी को ठीक करने की असली दवा है पैरामेडिकल स्टाफ : गौरी

रोगी को ठीक करने की असली दवा है पैरामेडिकल स्टाफ : गौरी

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad

बीकानेर Abhayindia.com विश्व कैंसर दिवस पर आचार्य तुलसी कैंसर रिसर्च सेन्टर के सभागार में संजीवनी द लाइफ वियोड कैंसर की ओर से जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में राजकीय नर्सिंग कॉलेज के अध्ययरन विद्यार्थी और पीबीएम अस्पताल के नर्सिंग स्टाफ को संबोधित क रते हुए मुख्य अतिथि अतिरिक्त संभागीय आयुक्त ए. एच. गौरी ने कहा कि किसी भी रोगी को जल्द ठीक करने की असली दवा पैरामेडिकल स्टाफ ही होता है। अगर वे लग्न और निष्ठा से काम करें तो किसी भी रोग का निदान संभव है। कोरोना काल इसका उदाहरण है। जिसमें नर्सिंग स्टाफ ने ऑक्सीजन मित्र के रूप में काम करके इस संकट की घड़ी में एक मिसाल पेश की।

उन्होंने कहा इसी तरह कैंसर जैसी बीमारी से रोगी को ठीक किया जा सकता है। अगर उसमें आत्मविश्वास जगा कर उसका सही समय पर इलाज हो तो कैंसर पर भी विजय पाया जा सकता है। इस मौके पर विशिष्ट अतिथि महावीर इंटरनेशनल की रेणू गुजरानी ने कहा कि संस्थान कैंसर जागरूकता व रोगियों के लिये बेहतर तरीके से काम कर रही है।

सेन्टर के वरिष्ठ चिकित्सक डॉ सुरेन्द्र बेनीवाल ने कहा कि निसन्देह कैंसर एक गम्भीर बीमारी है लेकिन असाध्य नहीं इसे जागरूकता से हराया जा सकता है। अगर समय रहते इसकी पहचान हो जाये। मरीज अगर दृढ़ इच्छाशक्ति से इस बीमारी का सामना करें और सही समय पर इलाज मुहैया हो तो इलाज संभव हो जाता है। हम इसके विषय में अधिकाधिक जन जागरूकता फैलाएं कि कैंसर के कारक क्याक्या हैं, किस प्रकार इससे बचा जा सकता है और हो जाए तो उसका यथोचित इलाज कैसे लिया जाए तभी कैंसर दिवस मनाने का हमारा उद्देश्य पूर्ण होगा। राजकीय नर्सिंग कॉलेज के प्रधानाचार्य अब्दुल वाहिद ने अतिथियों का आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम में बेहतर सेवाओं के लिये सिस्टर लिजी थॉमस का सम्मान किया गया। इस अवसर पर डॉ आशु मलिक, संजीवनी बीकानेर के अभिषेक जोशी सहित बड़ी संख्या में स्टाफ भी मौजूद रहे। संचालन शशांक शेखर जोशी ने किया।

Ad Ad Ad Ad Ad
Ad
- Advertisment -

Most Popular