Thursday, June 13, 2024
Hometrendingश्री लक्ष्मीनाथजी मंदिर में निर्जला एकादशी का मेला भरा, आस्था का सैलाब...

श्री लक्ष्मीनाथजी मंदिर में निर्जला एकादशी का मेला भरा, आस्था का सैलाब उमड़ा

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad

बीकानेर Abhayindia.com बीकानेर के नगर सेठ कहे जाने वाले श्रीलक्ष्मीनाथ जी मंदिर में निर्जला एकादशी पर आस्‍था का सैलाब सा उमड़ा। मंदिर परिसर में सुबह पांच बजे से ही श्रद्धालुओं की लंबी-लंबी कतारें लग गई जो दोपहर दो बजे तक निरंतर जारी रही। श्रद्धालु अपने सिर पर मटकी तथा हाथों में सेवई, आम, पंखी, ओले, छलनी तथा कपड़े लेकर जयकारे लगाते, भजन गाते हुए मंदिर पहुंचे। उन्होंने सपरिवार ठाकुर जी के धोक लगाई तथा मनोकामनाएं मांगी। इसके बाद दर्शनार्थियों ने पार्क परिसर में चल रहे फव्वारों तथा झूलों का आनंद लिया।

श्रीलक्ष्मीनाथ मंदिर विकास एवं पर्यावरण समिति के सचिव सीताराम कच्छावा ने बताया कि मेले में खोये 5 बच्चों को उनके परिजनों से मिलवाया तथा खोये 2 पर्स तथा खोये हुए 3 मोबाइल उनके मालिकों को सुपुर्द किये। समिति के श्रीरतन तंबोली, धीरज जैन, विनोद महात्मा, अनिल सोनी, चंद्रप्रकाश, गणेश भादाणी, विकास दैया तथा मौनी मारू ने दर्शनार्थियों को लाइन लगाकर दर्शन कराने में सहयोग किया। समिति की ओर से निशुल्‍क जूता-चप्पल सेवा केंद्र पर हनुमंत आसोपा, अशोक सोनी, मूलचंद पंवार, इन्द्र कुमार जोशी, मुरली पंवार, निर्मल पंवार, यश सोनी तथा मनन कच्छावा ने सेवाएं प्रदान की। समिति की ओर से खोया-पाया केंद्र तथा नियंत्रण कक्ष में शिवचंद तिवाड़ी, शिव कुच्‍छवाहा, महेंद्र सोनी, घनश्‍याम महात्मा, हरि प्रकाश सोनी, शिवप्रकाश सोनी, मुकेश जोशी ने सेवाएं प्रदान की।

जल सेवा एवं शर्बत सेवा में अशोक स्वामी, ललित सोनी, कालू मण्डल, कैलाश छीम्पा, प्रेम कुमावत, आजाद पुरोहित, नकुल गहलोत, नन्दिनी मण्डल ने सेवाएं प्रदान की। सचिव सीताराम कच्छावा ने जिला प्रशासन, पुलिस विभाग, देवस्थान विभाग, नगर विकास न्यास, नगर निगम, जल प्रदाय विभाग तथा जोधपुर विद्युत वितरण निगम को मेले में विभिन्न व्यवस्थाओं में सहयोग के लिए आभार प्रकट किया।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad
Ad Ad
- Advertisment -

Most Popular