Tuesday, April 16, 2024
Hometrendingपीबीएम अस्‍पताल में 180 मरीजों के कॉक्लियर इम्प्लांट कर सुनने की क्षमता...

पीबीएम अस्‍पताल में 180 मरीजों के कॉक्लियर इम्प्लांट कर सुनने की क्षमता वापस लौटाई

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad

बीकानेर Abhayindia.com प्रतिवर्ष 3 मार्च को विश्व श्रवण दिवस मनाया जाता है। इस अवसर पर रविवार को पीबीएम अस्‍पताल के ईएनटी विभाग में एक जागरूकता कार्यक्रम आयोजित हूए जिसमें कान के रोगों से जुड़े विषयों पर विचार विमर्श किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सरदार पटेल मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य एवं नियंत्रक डॉ. गुंजन सोनी थे। इस अवसर पर ईएनटी विभागाध्यक्ष डॉ. गौरव गुप्ता ने हियरिंग लॉस को लेकर मरीजों को जागरूक करने की बात कही ओर बताया कि प्रत्येक व्यक्ति को ईश्वर के दिए जीवन को अच्छे से जीने का पूरा अधिकारी है। यदि कोई कमी रह जाती है तो आजकल मेडिकल साइंस की मदद से उन समस्याओं से निजात पाई जा सकती है।

प्राचार्य डॉ. गुंजन सोनी ने बताया कि ईएनटी विभाग द्वारा अब तक 180 मरीजों के कॉक्लियर इम्प्लांट कर उनकी स्रवण क्षमता वापिस लौटाई है। हमारे ईएनटी विभाग में विश्वस्तरीय ओटी तथा बेहतरीन डॉक्टर्स की टीम नर सेवा नारायण सेवा की भावना से समर्पित होकर अपना कार्य करती है। प्राचार्य डॉ. सोनी ने बताया कि कॉक्लियर इम्प्लांट के ऑपरेशन आयुष्मान भारत मुख्यमंत्री चिरंजीवी योजना के तहत पूर्ण रूप से निःशुल्क किये जाते हैं।

कार्यक्रम के दौरान डॉ. गीता सोलंकी, ऑडियोमेट्रिस्ट मोहित ओझा, फिरोज खान आदि ने कान की बीमरियों से संबंधित प्रस्तुतीकरण दिया। इस दौरान प्रथम लाभार्थी मोनिका ने राम आएंगे… धुन पर स्वागत डांस किया। साथ ही कॉक्लियर इम्प्लांट के सफल ऑपरेशन के पश्चात लाभार्थी मोनिका, विधि जैन, चाहत, प्रतीक राजपुरोहित तथा कोमल का सम्मान किया गया, ये सभी अब अन्य बच्चों की तरह ही सामान्य जीवन व्यतीत कर रहे हैं। कार्यक्रम का संचालन डॉ. शैफाली ने किया।

इस दौरान पूर्व विभागाध्यक्ष ईएनटी डॉ. दीपचंद, चर्म रोग विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ. आरडी मेहता, डॉ. महेन्द्र सिसोदिया, पूर्व चिकित्सक डॉ. एम.जी. भट्टड, डॉ. विवेक सामौर, डॉ. शाश्वत मेहता, कॉर्डिनेटर डॉ. गौतम लूणिया, स्पीच थैरेपिस्ट कौशल शर्मा तथा आशीष सरोवा सहित ईएनटी विभाग के रेजिडेण्ट डॉक्टर्स आदि उपस्थित रहे।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad
Ad
- Advertisment -

Most Popular