बीकानेर : राजस्थान संगीत नाटक अकादमी द्वारा कुचामनी ख्याल की प्रस्तुति

राजस्थान संगीत नाटक अकादमी जोधपुर

बीकानेर abhayindia.com राजस्थान संगीत नाटक अकादमी जोधपुर की ओर से मारवाड़ लोक कला संस्थान द्वारा पांचू गांव में कुचामनी ख्याल की प्रस्तुति दी गई। इस अवसर पर राजस्थानी लोकगीत,लोक नृत्य,भवाई नृत्य, कालबेलिया नृत्य, चरी नृत्य, लोकगीत नींबूडा, केसरिया बालम की प्रस्तुति भी दी गई। कालबेलिया नृत्य सुगना देवी व सुनिया ने प्रस्तुत किया। भवाई नृत्य में सुगना देवी ने अपने सिर पर आग रख कर गिलासों, कांच व तलवार पर नृत्य प्रस्तुत किया।

मारवाड़ लोक कला संस्थान के सत्यनारायण शर्मा ने बताया कि राजस्थान संगीत नाटक अकादमी जोधपुर का कुचामनी शैली को जीवित रखने में बड़ा योगदान रहा है। उन्होंने बताया कि दलों द्वारा समय-समय पर कुचामनी ख्याल व राजस्थान लोकगीत व नृत्य कार्यक्रम में प्रस्तुति देकर इस विरासत को जीवित रखा जा रहा है।

उन्होंने बताया कि वर्तमान में तकनीक और डिजीटल युग के दौर में युवा पीढ़ी को अपनी महान लोक कलाओं से परिचित करवाना इस कार्य क्रम का उद्देश्य है। इस अवसर पर ग्राम सरपंच हवादेवी, उपसरपंच जेठमल डागा, पंचायत समिति सदस्य कोजाराम तथा सामाजिक कार्यकर्ता रामचन्द्र, हीराराम, श्यामदीन, गुमानाराम व बड़ी संख्या में दर्शक मौजूद रहे।

SHARE