LATEST ARTICLES

बीकानेर में नाबालिग लड़की गायब, किडनेप का अंदेशा

बीकानेर Abhayindia.com बीकानेर के नयाशहर पुलिस थाना क्षेत्र से एक नाबालिग लड़की के गायब होने का मामला सामने आया है। लड़की के पिता ने इस आशय की रिपोर्ट दर्ज कराते हुए किडनेप का अंदेशा जताया है।

पुलिस के अनुसार, रामपुरा बस्‍ती निवासी हेमदास ने रिपोर्ट दर्ज कराई है कि उसकी 16 वर्षीय पुत्री 26 जून को सुबह करीब 10 से 11 बजे के बीच अपनी सहेली से मिलने का कहकर घर से चली गई। बाद में उसकी काफी की गई लेकिन वह अभी तक नहीं मिली। पिता ने रिपोर्ट में बताया कि हमें किसी अज्ञात व्‍‍यक्ति पर किडनेप करने का अंदेशा है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है। मामले की जांच हैडकांस्‍टेबल हंसराज कर रहे हैं।

संपादकीय : “अभय इंडिया” की स्‍थापना का बेमिसाल एक दशक, निष्‍पक्ष पत्रकारिता के बूते किया 11वें वर्ष में प्रवेश…

बीकानेर से जयपुर भेजे गए सौ-सौ के नोट निकले जाली, केस दर्ज

बीकानेर Abhayindia.com जाली नोट बहुत ही सफाई से बनाए जाने लगे है। ऐसे नोट बैंक कर्मचारियों की नजरों को भी धोखा दे सकते हैं। ताजा मामला बीकानेर से जयपुर भेजे गए जाली नोटों का सामने आया है। इस आशय की रिपोर्ट कोटगेट पुलिस थाने में दर्ज की गई है।

मामले के अनुसार, आरबीआई जयपुर की सहायक महाप्रबंधक तृप्ति तोसावरा की ओर से जरिये डाक गांधीनगर जयपुर (पूर्व) की रिपोर्ट पर दर्ज एफआईआर के अनुसार बीकानेर जिले में स्थित मुद्रा तिजोरियों द्वारा भेजे गए गंदे नोटों के प्रेषण के परीक्षण में पकड़े गये कुल 6 जाली नोट सौ-सौ रुपए के मिले हैं। पुलिस ने यह मामला आईपीसी की धारा 489 ए के तहत सीसीटीएनएस में अज्ञात व्‍यक्ति के खिलाफ दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। मामले की जांच उपनिरीक्षक राजेन्‍द्र कुमार को सौंपी गई है।

संपादकीय : “अभय इंडिया” की स्‍थापना का बेमिसाल एक दशक, निष्‍पक्ष पत्रकारिता के बूते किया 11वें वर्ष में प्रवेश…

बीकानेर में ऑपरेशन साइबर क्‍लीन, एक्‍शन मोड पर पुलिस, दो और गिरफ्तार

बीकानेर Abhayindia.com ऑपरेशन साइबर क्लीन के तहत बीकानेर पुलिस पूरी तरह एक्‍शन मोड पर आ गई है। इसी क्रम में सोशल मीडिया पर हथियारों के साथ पोस्ट शेयर के मामले में नापासर थाना पुलिस ने दो युवकों को गिरफ्तार किया है।

नापासर थानाधिकारी जगदीश पांडर ने बताया कि विशेष अभियान के तहत पुलिस ने सोशल मीडिया पर हथियार के साथ फोटो अपलोड करने पर युवक गजानन्द पुत्र भंवरलाल जाट निवासी शेरेरां व राकेश पुत्र भंवरलाल जाट निवासी शेरेरां पुलिस थाना नापासर को गिरफ्तार किया गया है। आपको बता दें कि सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्‍ट करने के कई मामले इन दिनों सामने आए है। आईजी ओमप्रकाश और पुलिस अधीक्षक योगेश यादव के निर्देशानुसार ऐसे मामलों में सख्त कार्रवाई की जा रही है।

संपादकीय : “अभय इंडिया” की स्‍थापना का बेमिसाल एक दशक, निष्‍पक्ष पत्रकारिता के बूते किया 11वें वर्ष में प्रवेश…

राजस्‍थान : अगले 48 घंटों के दौरान मानसून की धमाकेदार एंट्री का अलर्ट, 15 जिलों में झमाझम…

जयपुर Abhayindia.com प्रदेश में अगले 48 घंटों के दौरान मानसून की धमाकेदार एंट्री होने की संभावना जताई गई है। मौसम विभाग ने इसके साथ ही 15 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। विभाग के अनुसार, पूर्वी राजस्थान में जहां भारी बारिश तथा पश्चिमी राजस्थान में हल्की बारिश के आसार है।

विभाग ने बताया है‍ कि प्रदेश के कोटा, उदयपुर व जयपुर संभाग में बारिश शुरू होने के बाद तापमान में गिरावट दर्ज हुई है। अगले 48 घंटे के भीतर मानसून झालावाड़ के रास्ते प्रवेश करेगा। इसके बाद तो तापमान में और गिरावट दर्ज हो सकेगी।

तीन दिनों का पूर्वानुमान…

29 जून : अजमेर, अलवर, बारां, बूंदी, भीलवाड़ा, चित्तौड़गढ़, झालावाड़, दौसा, कोटा, टोंक, जयपुर,  भरतपुर, धोलपुर, करौली, सवाईमाधोपुर में भारी से अति भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है।

30 जून : अजमेर, अलवर, बांसवाड़ा, बूंदी, टोंक, भरतपुर, भीलवाड़ा, चित्तौड़गढ़, धोलपुर, दौसा, डूंगरपुर, जयपुर, कोटा, झुंझुनूं, करौली, प्रतापगढ़, सीकर में भारी बारिश का अलर्ट। वहीं, पश्चिमी राजस्थान में चूरू, पाली, जोधपुर, नागौर जिले में हल्की बारिश और तेज हवाएं चलने की संभावना।

1 जुलाई : अजमेर, अलवर, भरतपुर, भीलवाड़ा, धोलपुर, दौसा, टोंक, जयपुर, झुंझनूं, करौली, राजसमंद, सवाईमाधोपुर, सीकर, बारां, बांसवाड़ा, चित्तौड़गढ़, झालावाड़, प्रतापगढ़ जिले में भारी बारिश का अलर्ट। पश्चिमी राजस्थान में बीकानेर, चूरू, जालौर, पाली व नागौर जिले में हल्की बारिश और तेज हवाएं चलने का अलर्ट।

संपादकीय : “अभय इंडिया” की स्‍थापना का बेमिसाल एक दशक, निष्‍पक्ष पत्रकारिता के बूते किया 11वें वर्ष में प्रवेश…

बीकानेर में कलक्टर के निर्देश पर 10 अधिकारियों ने 33 कार्यालयों का किया औचक निरीक्षण, 258 कार्मिक मिले अनुपस्थित

बीकानेर Abhayindia.com जिला कलक्टर भगवती प्रसाद कलाल के निर्देशानुसार सोमवार को जिला मुख्यालय के 33 कार्यालयों में कर्मचारियों की उपस्थिति का औचक निरीक्षण किया गया। इस दौरान 610 में से 258 कार्मिक अनुपस्थित मिले।

जिला कलक्टर ने बताया कि प्रत्येक सरकारी कार्मिक समय पर कार्यालय पहुंचे तथा आमजन के अधिक से अधिक कार्यों का सम्पादन करें, इसके मद्देनजर राजस्थान प्रशासनिक सेवा के दस अधिकारियों ने इन कार्यालयों का प्रातः 9.30 बजे से औचक निरीक्षण किया। इस दौरान सीएमएचओ के 123 में से 62 तथा नगर निगम के 184 में से 60 कार्मिक अनुपस्थित पाए गए। इसी प्रकार पंचायत समिति के 27, कृषि विस्तार कार्यालय के 24 तथा सार्वजनिक निर्माण विभाग के 14 कार्मिक अनुपस्थित मिले। इस दौरान उद्यान विभाग के सहायक निदेशक कार्यालय तथा सीएमएचओ कार्यालय की एनयूएचएम, पीसीपीएनडीटी, एनसीडी, एनटीसीपी और फ्लोरोसिस प्रोग्राम शाखा बंद पाई गईं।

इन अधिकारियों ने किया निरीक्षण

जिला कलेक्टर के निर्देशानुसार अतिरिक्त कलक्टर (प्रशासन) ने नगर निगम, अतिरिक्त कलक्टर (नगर) ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय, अतिरिक्त आयुक्त उपनिवेशन ने पीडब्ल्यूडी, सहायक आयुक्त उपनिवेशन ने कृषि और उद्यानिकी, एमजीएसयू के कुलसचिव ने देवस्थान और पर्यटन, रीपा के अतिरिक्त निदेशक ने पंचायत समिति परिसर के समस्त कार्यालयों, जिला परिषद की मुख्य कार्यकारी अधिकारी ने चौपड़ा कटला स्थित समस्त कार्यालयों, महिला एवं बाल विकास विभाग की उपनिदेशक ने सहकारिता विभाग, एसकेआएयू के कुलसचिव ने बीमा एवं प्रावधायी निधि के कार्यालयों तथा सहायक निदेशक लोक सेवाएं ने पीडब्ल्यूडी के कार्यालयों का औचक निरीक्षण किया।

जिला कलेक्टर पहुंचे यूआईटी, 39 कार्मिक मिले अनुपस्थित

जिला कलेक्टर और नगर विकास न्यास अध्यक्ष भगवती प्रसाद कलाल ने यूआईटी का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान 39 कार्मिक अनुपस्थित मिले। जिला कलेक्टर ने न्यास की विभिन्न शाखाओं का निरीक्षण कर जायजा लिया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने फाइलें व्यवस्थित रखने, साफ सफाई का विशेष ध्यान रखने के निर्देश दिए। सभी स्थानों पर निरीक्षण के दौरान उपस्थिति पंजिकाएं जब्त कर ली गई। जिला कलेक्टर ने बताया कि अनुपस्थित पाए गए कार्मिकों के विरुद्ध नियमानुसार कार्यवाही की जाएगी।

संपादकीय : “अभय इंडिया” की स्‍थापना का बेमिसाल एक दशक, निष्‍पक्ष पत्रकारिता के बूते किया 11वें वर्ष में प्रवेश…

पुलिसकर्मियों से मारपीट के मामले में विधायक के पति को जेल भेजा

जयपुर Abhayindia.com भाजपा की प्रदेश उपाध्यक्ष व केशवरायपाटन विधायक चन्द्रकांता मेघवाल के पति को कोटा के महावीर नगर थाने में घुसकर पुलिस कर्मियों से मारपीट के पुराने में मामले में सोमवार को जेल भेज दिया है। आपको बता दें कि इससे पहले विधायक को भी थाने में तलब किया था, बाद में विधायक ने थाने में अपने बयान दर्ज करवाए थे।

कोटा के महावीर नगर थाने में 5 साल पहले भाजपा कार्यकर्ता और पुलिस के बीच हुई मारपीट की घटना के मामले में सोमवार को महावीर नगर थाना पुलिस ने चालान पेश कर दिया। इस मामले में विधायक चंद्रकांता मेघवाल सहित अन्य 9 आरोपियों को पेश होने के लिए न्यायालय ने निर्देशित किया था। इस मामले में विधायक चंद्रकांता मेघवाल के पति नरेंद्र पाल वर्मा को 14 दिन की न्यायिक अभिरक्षा में भेज दिया गया। वर्ष 2017 में दर्ज हुए मामले में सीआईडी.सीबी ने कुछ दिनों पहले ही में अनुसंधान पूरा किया था और इसके बाद कोटा शहर की महावीर नगर थाना पुलिस को यह पत्रावली भेजी। जिस पर चालान पेश करने के लिए निर्देशित किया गया था। इस मामले में पहले से आरोपी अंतरिम जमानत पर चल रहे थे, ऐसे में सोमवार को सभी आरोपियों की जमानत अर्जी भी दाखिल की गई थी। न्यायालय ने सुनवाई के बाद विधायक के पति नरेंद्र पाल वर्मा को न्यायिक अभिरक्षा में भेज दिया गया। वहीं इस मामले में अन्य आरोपी चंद्रकांता मेघवाल, अमित दाधीच, मृगेंद्र सिंह, सुरेंद्र कुमावत, अमित शर्मा, सत्यनारायण नागर, बाबूलाल रेनवाल व किशोर सिंह भी आरोपी हैं।

संपादकीय : “अभय इंडिया” की स्‍थापना का बेमिसाल एक दशक, निष्‍पक्ष पत्रकारिता के बूते किया 11वें वर्ष में प्रवेश…

राजस्‍थान में चल रहे बयानों के बाण, सीएम गहलोत को लेकर पायलट ने कहा- मैं उनकी बातों को अदरवाइज नहीं लेता…

जयपुर Abhayindia.com राजस्‍थान के सियासी जगत में पूर्व डिप्‍टी सीएम सचिन पायलट ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बयान पर कहा कि उन्होंने पहले भी मुझे नकारा निकम्मा कहा। वह अनुभवी, बुजुर्ग और मेरे पिता तुल्य हैं। कभी कुछ बोल देते है तो मैं उनकी बातों को अदरवाइज नहीं लेता।

टोंक में पत्रकारों से बातचीत में पायलट ने कहा कि राहुल गांधी मेरे धैर्य की तारीफ कर चुके हैं। उनके इस स्टेटमेंट से किसी को भी अनावश्यक रूप से परेशान नहीं होना चाहिए। इसको राइट स्प्रिट में लेना चाहिए। मैं मानता हूं कि राहुल गांधी ने मेरे धैर्य को इतना एप्रिशिएट किया, इसके बाद अब कहने के लिए कुछ बचा नही है।

पायलट ने कहा कि अगले लोकसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी जोधपुर से चुनाव जीतेगी। जो चूक हमसे पहले हो गई थी, इस बार वो चूक नहीं होगी। इस बार गजेंद्र सिंह शेखावत को चुनाव में हराएंगे।

संपादकीय : “अभय इंडिया” की स्‍थापना का बेमिसाल एक दशक, निष्‍पक्ष पत्रकारिता के बूते किया 11वें वर्ष में प्रवेश…

पायलट को लेकर प्रमोद कृष्णम का बयान- सावन आ रहा है, सियासी जहर पीने वाले का भी अभिषेक होगा…

जयपुर Abhayindia.com राजस्‍‍थान में दो साल पहले आए सियासी संकट को लेकर अब बयानबाजी और तेज हो गई है। पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और मंत्री शांति धारीवाल के बयानों के बाद अब कांग्रेस नेता प्रमोद कृष्णम का बड़ा बयान सामने आया है। उन्‍होंने कहा कि पायलट ने सियासी जहर पीया है और जहर पीने वाले का सावन में अभिषेक होगा।

इधर, इस समूचे घटनाक्रम के बीच सचिन पायलट और उनके समर्थक विधायक पूरी तरह चुप्पी साधे हुए है। इसे लेकर भी चर्चा का बाजार गरम हो रहा है। कयास लगाए जा रहे हैं कि जल्द ही उन्हें कोई बड़ी जिम्मेदारी दी जा सकती है। इसी क्रम में विराटनगर से पायलट खेमे के कांग्रेस विधायक इंद्राज गुर्जर ने इशारों में सीएम पर निशाना साधते हुए ट्वीट किया- जमीन पर बैठा हुआ आदमी कभी नहीं गिरता, फ़िक्र उनको है, जो हवा में है। इसे गहलोत के बयान के जवाब के तौर पर देखा जा रहा है।

संपादकीय : “अभय इंडिया” की स्‍थापना का बेमिसाल एक दशक, निष्‍पक्ष पत्रकारिता के बूते किया 11वें वर्ष में प्रवेश…

बीकानेर में बालश्रम उन्मूलन के लिए चलेगा विशेष अभियान, जिला स्तरीय टीमें पुनर्गठित…

बीकानेर Abhayindia.com बालश्रम उन्मूलन के लिए गठित जिला स्तरीय टीमों का पुनर्गठन किया गया है। यह सात टीमें जुलाई से सितंबर तक रेस्क्यू एवं जनचेतना के सघन कार्यक्रम आयोजित करेगी।

जिला कलक्टर भगवती प्रसाद कलाल ने बताया कि जिला परिषद की मुख्य कार्यकारी अधिकारी नित्या के. इस अभियान की नोडल अधिकारी होगी। वहीं सात टीमों का गठन करते हुए राजस्थान प्रशासनिक सेवा के अधिकारी को इनका प्रभारी नियुक्त किया गया है। यह टीमें बालश्रम पाए जाने पर इनके पुनर्वास, शिक्षा एवं स्वास्थ्य की समुचित व्यवस्था के प्रति जिम्मेदार होंगी। इन टीमों में किशोर न्याय बोर्ड तथा बाल कल्याण समिति के सदस्यों सहित विभिन्न विभागों के अधिकारियों को शामिल किया गया है। प्रत्येक थाने बाल कल्याण अधिकारी को भी इसमें शामिल किया गया है।

यह होंगे टीमों के प्रभारी…

जिला कलेक्टर ने बताया कि रीपा के अतिरिक्त निदेशक अरुण प्रकाश शर्मा, स्थानीय निकाय विभाग के उपनिदेशक नरेंद्रपाल सिंह, डीआईजी स्टांप के रामचंद्र बैरवा, एसीएम की बिंदु खत्री तथा एएसओ सुशीला वर्मा, महिला एवं बाल अधिकारिता विभाग की उपनिदेशक शारदा चौधरी एवं अतिरिक्त आयुक्त कॉलोनाइजेशन रामरतन को टीमों का प्रभारी नियुक्त किया गया है।

यह कार्य करेंगी टीमें…

बालश्रम उन्मूलन के लिए गठित यह टीमें जिले के औद्योगिक क्षेत्रों में स्थापित उद्योग एवं कारखानों, दुकानों एवं वाणिज्यिक संस्थानों, ढ़ाबो तथा होटल की आकस्मिक जांच कर नियमानुसार कार्रवाई करेगी तथा बालश्रम के विरुद्ध जनजागृति का कार्य भी किया जाएगा। अभियान के तहत जिले के समस्त ग्राम पंचायत, ब्लॉक तथा औद्योगिक क्षेत्रों का भी निरीक्षण कर जिले को बालश्रम से मुक्त करवाने की दिशा में प्रयास किए जाएंगे। इसके अतिरिक्त बच्चों में नशाखोरी की प्रवृत्ति पर प्रभावी अंकुश लगाने के लिए भी इन दलों द्वारा संभावित क्षेत्रों का औचक निरीक्षण किया जाएगा।

संपादकीय : “अभय इंडिया” की स्‍थापना का बेमिसाल एक दशक, निष्‍पक्ष पत्रकारिता के बूते किया 11वें वर्ष में प्रवेश…

बीकानेर में रेल बाइपास की संभावनाओं पर की चर्चा, मंत्री कल्ला ने डीआरएम के सामने दोहराई बात…

बीकानेर Abhayindia.com शिक्षा मंत्री डॉ. बी. डी. कल्ला ने सोमवार को मंडल रेल प्रबंधक राजीव श्रीवास्तव के साथ रेल बाइपास की संभावनाओं पर चर्चा की। इस दौरान सेवानिवृत्त रेल अधिकारी किशन लाल मेघवाल भी मौजूद रहे।

शिक्षा मंत्री ने कहा कि रेलवे फाटकों से जुड़ी समस्या का सर्वश्रेष्ठ समाधान रेल बाइपास ही है। रेलवे द्वारा इस दिशा में पहल करनी चाहिए। उन्होंने बताया कि पूर्व में राज्य सरकार द्वारा वर्ष 1998 से 2003 के बीच रेल बाईपास के लिए 61.62 करोड़ रुपये स्वीकृत किए गए थे, लेकिन 2003 के बाद इसे ड्रॉप कर दिया गया।

शिक्षा मंत्री ने कहा कि रेलवे द्वारा बाईपास निर्माण किए जाने की स्वीकृति दिए जाने पर भूमि राज्य सरकार द्वारा निःशुल्क उपलब्ध करवाई जाएगी। वहीं बाईपास निर्माण पर होने वाली राशि में भी राज्य सरकार की पूर्व की भांति भागीदारी रहेगी।

शिक्षा मंत्री ने कहा कि शीघ्र ही रेलवे के जनरल मैनेजर से मुलाकात करते हुए इस संबंध में बात की जाएगी। साथ ही केन्द्रीय राज्य मंत्री और स्थानीय सांसद श्री अर्जुन राम मेघवाल के साथ केन्द्रीय रेल मंत्री के समक्ष भी यह बात रखने के प्रयास होंगे। उल्लेखनीय है कि पूर्व में डॉ. कल्ला ने स्थानीय सांसद मेघवाल के साथ इस मुद्दे पर केन्द्रीय रेल मंत्री के साथ बैठक की थी।

संपादकीय : “अभय इंडिया” की स्‍थापना का बेमिसाल एक दशक, निष्‍पक्ष पत्रकारिता के बूते किया 11वें वर्ष में प्रवेश…

हमारी संस्कृति को नष्ट करने की दृष्टि से अंग्रेजों ने संस्कृत साहित्य पर किए लगातार प्रहार : प्रो. रमाकांत पांडे

बीकानेर Abhayindia.com महाराजा गंगासिंह यू‍निवर्सिटी (एमजीएसयू) के इतिहास विभाग एवं संग्रहालय व प्रलेखन केन्‍द्र की ओर से आजादी का अमृत महोत्सव विषयक एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला में मुख्‍य वक्‍ता केंद्रीय संस्कृत विश्वविद्यालय भोपाल परिसर के निदेशक प्रोफेसर रमाकांत पांडे ने संस्कृत में लिखित आज़ादी की लड़ाई के अज्ञात इतिहास : संग्रहालयों की ज़ुबानी विषय पर अपनी बात रखी।

प्रो. पांडे ने कहा कि अंग्रेज भली-भांति जानते थे कि अगर भारत में शासन करना है तो संस्कृत भाषा और उसके साहित्य को नष्ट करना होगा। लॉर्ड मैकाले ने इस काम को आगे बढ़ाने के लिए अंग्रेजी को भारत की सरकारी भाषा तथा शिक्षा का माध्यम बनाया और संस्कृत की पारंपरिक शिक्षा को अवैध घोषित किया। प्रतिक्रिया में अंग्रेजों के विरुद्ध विशाल आंदोलन खड़ा हुआ जिसका परिणाम यह हुआ कि कोलकाता हिंदू कॉलेज और संस्कृत कॉलेज के छात्रों ने मिलकर अंग्रेज अधिकारियों पर आक्रमण बोल दिया।

इससे पहले आयोजन सचिव इतिहास विभाग की डॉ. मेघना शर्मा ने स्वागत उद्बोधन देते हुए कार्यशाला की भूमिका पर प्रकाश डाला व बताया कि संस्कृत के साथ-साथ क्षेत्रीय भाषाओं के साहित्य व प्रेस पर भी प्रतिबंध लगाए गए। यहां तक की पत्रकारों को अपना अखबार प्रकाशित करने से पहले अंग्रेजों को दिखाए जाने के फरमान जारी हुए। कइयों को प्रतिबंधित भी किया गया। डॉ. शर्मा ने मुख्य वक्ता का परिचय भी मंच से पढ़ा।

विश्वविद्यालय के संग्रहालय व प्रलेखन केंद्र की निदेशक डॉ. मेघना शर्मा ने बताया कि अतिथियों ने आयोजन पूर्व चित्र कलाकृति का विमोचन किया जिसे चित्रकला विभाग के विद्यार्थियों द्वारा आजादी का अमृत महोत्सव विषयक तीन दिवसीय कार्यशाला में बनाकर तैयार किया गया था।

अध्यक्षीय उद्बोधन में कुलपति प्रो. विनोद कुमार सिंह ने कहा कि भारतीय संस्कृति की धरोहर को संस्कृत साहित्य में बखूबी सदियों से सहेजा है। यह कहना अतिशयोक्ति नहीं होगी कि प्राचीन भारतीय वैभव के साथ-साथ स्वतंत्रता संग्राम को परिलक्षित करता बेहतरीन आईना संस्कृत साहित्य प्रस्तुत करता है। आयोजन में अतिथियों द्वारा आज़ादी का अमृत महोत्सव विषय पर कलाकृति तैयार करने वाले विद्यार्थियों को मंच से प्रमाण पत्र व स्मृति चिन्ह देकर पुरस्कृत किया गया। चित्रकला विभाग के विद्यार्थी राम कुमार भादाणी ने मुख्य वक्ता को उनका स्केच बनाकर भेंट किया।

धन्यवाद ज्ञापन कुलसचिव यशपाल अहूजा द्वारा दिया गया तो वहीं मंच संचालन डॉ प्रगति सोबती ने किया। एमजीएसयू के वित्त नियंत्रक बीएल सर्वा, आजादी का अमृत महोत्सव के विश्वविद्यालय नोडल अधिकारी व उप कुलसचिव डॉ. बिट्ठल बिस्सा, परीक्षा नियंत्रक प्रो. राजाराम चोयल, निदेशक शोध डॉ. रविंद्र मंगल, डॉ. प्रभुदान चारण, डॉ. अभिषेक वशिष्ठ, डॉ. सीमा शर्मा व उमेश शर्मा के अतिरिक्त संबद्ध महाविद्यालयों के सदस्य व भारी संख्या में विद्यार्थी मौजूद रहे।

संपादकीय : “अभय इंडिया” की स्‍थापना का बेमिसाल एक दशक, निष्‍पक्ष पत्रकारिता के बूते किया 11वें वर्ष में प्रवेश…

अग्निपथ के विरोध में कांग्रेस का प्रदर्शन आज, सीएम गहलोत का अचानक दिल्‍ली दौरा…

जयपुर Abhayindia.com केन्‍द्र सरकार की अग्निपथ योजना के विरोध में राजस्‍थान कांग्रेस की ओर से आज विरोध प्रदर्शनों का ऐलान किया गया है। इस बीच, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत आज दिल्ली दौरे पर हैं। बताया जा रहा है कि सीएम गहलोत यूपीए के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा के नामांकन में शामिल होंगे। वे दोपहर 12 बजे यूपीए के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा के नामांकन दाखिल करने के दौरान साथ रहेंगे। यशवंत सिन्हा के साथ कांग्रेस सहित यूपीए गठबंधन के सहयोगी दलों के नेता भी मौजूद रहेंगे।

बताया जाता है कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत अपने दिल्ली दौरे के दौरान पार्टी के कई शीर्ष नेताओं कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी,कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी और पार्टी के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री केसी वेणुगोपाल सहित कई अन्य नेताओं से मुलाकात करेंगे और अग्निपथ योजना को लेकर नेताओं के साथ आगे की रणनीति पर भी चर्चा करेंगे। इसके बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत शाम 4 बजे दिल्ली से जयपुर के लिए रवाना होंगे। इसके बाद गहलोत 28 से 30 जून तीन दिवसीय दौरे पर जोधपुर में जाएंगे, जहां मुख्यमंत्री अशोक गहलोत विभिन्न कार्यक्रमों में शिरकत करेंगे और जोधपुर से कांग्रेस कार्यकर्ताओं- नेताओं से भी मुलाकात करेंगे। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत 28 जून दोपहर 2 बजे जयपुर से जोधपुर के लिए रवाना होंगे और 3 बजे जोधपुर पहुंचेंगे, उसके बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत 30 जून को शाम 7 बजे जोधपुर से जयपुर लौटेंगे।

संपादकीय : “अभय इंडिया” की स्‍थापना का बेमिसाल एक दशक, निष्‍पक्ष पत्रकारिता के बूते किया 11वें वर्ष में प्रवेश…